पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

लाचार व्यवस्था:जमशेदपुर में बिगड़ी स्थिति, वेंटिलेटर नहीं मिलने से 48 घंटों में 23 मरीजों ने दम तोड़ा

जमशेदपुर3 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
फाइल फोटो - Dainik Bhaskar
फाइल फोटो
  • कांतिलाल, एमजीएम व सदर हॉस्पिटल में कोरोना के गंभीर 82 मरीज कर रहे इंतजार

जमशेदपुर में कोरोना का कहर इतना तेज हो गया है कि अस्पतालों की सारी व्यवस्थाएं ध्वस्त हो गई हैं। पिछले 48 घंटों में वेंटिलेटर के अभाव में 23 कोरोना मरीजों की मौत हुई है। रविवार शाम तक एमजीएम हॉस्पिटल, सदर हॉस्पिटल और कांतिलाल हॉस्पिटल की इमरजेंसी में 84 कोरोना मरीज वेंटिलेटर केे इंतजार में चेयर-स्ट्रेचर पर इंतजार कर रहे थे।

यह हृदय विदारक दृश्य देख अस्पतालों के डॉक्टर-कर्मचारी भी सहम गए हैं। अक्सर भीड़ देख गुस्सा करने वाले डॉक्टर-कर्मचारी अब मरीजों व उनके परिजनों को ढांढस बंधाते हुए देखे जा रहे हैं। स्थिति की नजाकत को देख एमजीएम, कांतिलाल और सदर हॉस्पिटल में आने वाले कोरोना के हर गंभीर मरीजों को जहां जगह मिल रही है, वहीं बैठाकर-लिटाकर ऑक्सीजन देकर बचाने का प्रयास किया जा रहा है। बतातें चलें कि शहर के दो सरकारी अस्पतालों में केवल 21 वेंटिलेटर की सुविधा है। एमजीएम हॉस्पिटल में कुल 17, जबकि सदर हॉस्पिटल में मात्र 4 वेंटिलेटर हैं।

...और फफक पड़े सिविल सर्जन

वेंटिलेटर के अभाव में मरीजों की मौत के सवाल पर सिविल सर्जन डॉ एके लाल फफक कर रोने लगे...। फिर खुद को संभालते हुए कहा- दयनीय स्थिति है। वायरस की मारक क्षमता इतनी तेज है कि सामान्य मरीज एक घंटे में गंभीर हो जा रहा है। मरीजों की संख्या अधिक है और संसाधन सीमित है। बावजूद हरसंभव प्रयास किया जा रहा है।

गंभीर मरीजों का इलाज करने का आदेश

हम किसी गंभीर मरीज को मरने के लिए नहीं छोड़ सकते हैं। जो मरीज आ रहे हैं, उनका हर हाल में मौजूद संसाधन में इलाज किया जा रहा है। डॉक्टर-कर्मचारियों को कह दिया गया है- अस्पताल में जो संसाधन हैं, उनका पूरा उपयोग करें और हर गंभीर मरीजों का इलाज करें।

-डाॅ नकुल चौधरी, एमजीएम कोविद नोडल पदाधिकारी सह उपाधीक्षक

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- दिन सामान्य ही व्यतीत होगा। कोई भी काम करने से पहले उसके बारे में गहराई से जानकारी अवश्य लें। मुश्किल समय में किसी प्रभावशाली व्यक्ति की सलाह तथा सहयोग भी मिलेगा। समाज सेवी संस्थाओं के प्रति ...

    और पढ़ें