पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कोरोना:जमशेदपुर में 150 दिन में 14000 से अधिक मरीजों ने कोरोना को हराया, रिकवरी रेट 90% से ज्यादा, एक्टिव केस 1523

जमशेदपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • जिले में 12 मई को ठीक हुआ था पहला मरीज, 30-44 वर्ष वालों की रिकवरी अधिक

जिले में शनिवार को 43 कोरोना मरीज ठीक हुए। 150 दिनों में 14031 मरीजों ने कोरोना को मात दी है। इनमें 4841 महिलाएं व 9190 पुरुष हैं। पहला मरीज 28 मई को मरीज ठीक हुआ था। 24 अक्टूबर तक यानी 150 दिनों में 14301 ठीक हो चुके हैं। जिले का रिकवरी रेट 90.20% है जो देश के 89.50% से अधिक व राज्य के 93.01 प्रतिशत से कम है।

 जिले में 60 वर्ष से अधिक उम्र के 1605 मरीज ठीक हुए हैं, जिसमें 606 महिलाएं व 999 पुरुष हैं। वैसे 30-44 वर्ष के मरीज सबसे अधिक 4597 ठीक हुए हैं। 14 वर्ष से कम उम्र के 713 बच्चे कोरोना को मात दे चुके हैं। 15-29 आयु वर्ग के 3518 युवाओं ने कोरोना को मात दी है। 24 -15 अक्टूबर तक 638 कोरोना मरीज ठीक हुए व 490 नए मरीज मिले हैं।

1745 संदिग्धों की जांच में 48 नए संक्रमित मिले, एक भी मौत नहीं
शहर में शनिवार को कोरोना से एक भी मौत नहीं हुई। 1745 सैंपल की जांच में 48 नए पॉजिटिव मिले। नए मरीजों में टेल्को व सोनारी के 4-4, मानगो के दो, बहरागोड़ा के चार, साकची पुलिस लाइन के एक जवान, घाटशिला के एक, डिमना रोड वेलफेयर टावर का एक, डिमना रोड स्थित शंकोसाई रोड चार के एक, कदमा के एक, मानगो शक्ति नालंदा टावर का एक, गोलमुरी के एक सहित अन्य क्षेत्र के मरीज हैं। कुल संक्रमितों की संख्या 15554 हो गई है। दूसरी ओर शनिवार को 1323 संदिग्ध मरीजों का नमूना लेकर जांच के लिए भेजा। इस तरह से अबतक 284342 का नमूना लिया जा चुका है। इसमें 256745 का रिपोर्ट निगेटिव आई है।

जिले में कोरोना मरीजों की रिकवरी लगातार बढ़ रही है। रिकवरी रेट 90.20% पहुंच चुका है। 14 हजार से अधिक लोग ठीक हो चुके हैं। लोग मास्क, सोशल डिस्टेंसिंग समेत अन्य गाइडलाइन को पूरा करें तथा जिले को कोरोना मुक्त करने में सहयोग करें।
डॉ. साहिर पाल, जिला सर्विलांस पदाधिकारी, पूर्वी सिंहभूम

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- घर-परिवार से संबंधित कार्यों में व्यस्तता बनी रहेगी। तथा आप अपने बुद्धि चातुर्य द्वारा महत्वपूर्ण कार्यों को संपन्न करने में सक्षम भी रहेंगे। आध्यात्मिक तथा ज्ञानवर्धक साहित्य को पढ़ने में भी ...

और पढ़ें