सोनारी में पायलटों की टेस्टिंग / दो महीने में कुछ भूले तो नहीं, इसलिए ट्रेनर के साथ भरी उड़ान

Nothing forgotten in two months, so a flight filled with trainer
X
Nothing forgotten in two months, so a flight filled with trainer

  • रूटीन ड्यूटी से पहले पायलटों ने बिना किसी पैसेंजर ट्रेनर की देखरेख में घंटों उड़ाया विमान
  • टाटा स्टील के दो विमानों का लिया गया ट्रायल, उड़ान से पूर्व ली तकनीकी जानकारी

दैनिक भास्कर

May 23, 2020, 06:24 AM IST

जमशेदपुर. लॉकडाउन के दो महीने में पायलट कुछ भूले तो नहीं, इसको लेकर ट्रेनर की देखरेख में शुक्रवार को सोनारी एयरपोर्ट पर उड़ान भरी। विमान में न कोई पैसेंजर थे और न ही कोई अधिकारी। रूटीन ड्यूटी से पहले पायलटों ने बिना किसी पैसेंजर के टेस्टिंग की। यह उड़ान पायलटों की कुशलता की जांच के लिए भरी गई। लॉकडाउन में दो महीने से विमान का परिचालन ठप है। इस दौरान पायलटों ने कोई उड़ान नहीं भरी। ऐसे में उड़ान भरने की दक्षता में गिरावट की आशंका को देखते हुए डायरेक्टर जेनरल ऑफ सिविल एविएशन (डीजीसीए) ने कुशलता की जांच करने का निर्देश दिया है। विगत दो महीने से सोनारी विमानतल पर रन-वे पर किसी भी विमान ने उड़ान नहीं भरी थी। इसे देखने के लिए कई लोग वहां पर पहुंच गए। टाटा स्टील के दो विमानों से पायलटों का ट्रायल लिया गया। शहर के आकाश में दो महीने के बाद विमान नजर आए। पायलटों को उड़ान से पहले से तकनीक के बारे में पूछा गया। ताकि यह पता लगाया जा सके कि उन्हें विमान चलाना याद है या दो महीने में भूल तो नहीं गए हैं। इसके बाद विमान ने आकाश में उड़ान भरी।
डीजीसीए ने सर्कुलर जारी कर दिया निर्देश
डीजीसीए ने 20 मई को एक सर्कुलर सभी विमान ऑपरेटरों के लिए जारी किया। जिसमें बताया गया है कि...  कोविड-19 के प्रकोप के चलते विमानों का परिचालन पूरी तरह से ठप है। इस दौरान पायलटों ने कोई उड़ान नहीं भरी है।
विमान में चालक क्रू के साथ केवल ट्रेनर ही रहेंगे। इसके अलावे किसी के प्रवेश की इजाजत विमान में नहीं होगी। ऐसा संभव है कि दो महीने से परिचालन नहीं होने से तकनीकी दक्षता में कमी आ गई होगी। ऐसे में उनको विमान चलाकर ट्रेनिंग और जांच किया जाए। 

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना