पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कब सुधरेंगे:मई में औसतन 775 पॉजिटिव हर दिन मिले, फिर भी बिना मास्क घूम रहे लोग

जमशेदपुर13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
यह लापरवाही ठीक नहीं - Dainik Bhaskar
यह लापरवाही ठीक नहीं
  • रविवार को 130 लोग पकड़ाए, इनमें 39 ने मास्क नहीं लगाया था
  • पुलिस की सख्ती के बाद भी नहीं रुक रहे लाॅकडाउन उल्लंघन के मामले, 1-28 मई तक 2454 पर केस

पूर्वी सिंहभूम में कोरोना के सेकेंड वेव में 1 अप्रैल से अब तक 60 दिनों में 31660 नए केस मिले चुके हैं। केवल मई में 23238 मरीज (औसतन 775 प्रतिदिन) मिले हैं। अप्रैल से अब तक 638 लोगों की जान भी चुकी है। कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए एक ओर राज्य सरकार स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह की अवधि बढ़ा रही है, दूसरी ओर कई शहरवासी लापरवाही बरतने से बाज नहीं आ रहे हैं।

कुछ लोग तो मास्क लगाना भी जरूरी नहीं समझते। हर रोज पुलिस दर्जनभर लोगों को बिना मास्क और बेवजह घूमते हुए पकड़ कर कार्रवाई कर रही है। इसके बावजूद लोगबाग सुधर नहीं रहे हैं। रविवार को भी कुल 130 लोगों को लॉकडाउन उल्लंघन करने के आरोप में पकड़ा गया। इनसे 65 हजार रुपए जुर्माना वसूला गया।

2020 में लाॅकडाउन उल्लंघन पर 3 महीने में 5534 लोगों से वसूला 27 लाख जुर्माना, इस साल 36 दिन में ही 4340 लोगों ने भरे 21.72 लाख

राज्य में कोरोना संक्रमण रांची के बाद सबसे ज्यादा जमशेदपुर में फैला। इसके बाद भी लाॅकडाउन में शहर के 30 प्रतिशत लाेग गाइडलाइन का पालन नहीं कर रहे हैं। इसका खुलासा ट्रैफिक पुलिस के आंकड़ों में हुआ है। वर्ष 2020 में जुलाई से सितंबर तक ट्रैफिक पुलिस ने जांच अभियान में 5534 लोगों काे लाॅकडाउन उल्लंघन आराेप में पकड़ा। उनसे 2717500 रुपए जुर्माना वसूला। 2021 में मार्च के बाद काेराेना की रफ्तार के साथ लाेगाें की लापरवाही भी बढ़ी। इस साल 23 अप्रैल से 28 मई तक महज 36 दिनों लाॅकडाउन का उल्लंघन करने वाले 4340 लोगों से 21.72 लाख रुपए जुर्माना वसूला गया। इनमें मॉर्निंग वॉक करने और बिना वजह घूमने वाले लोगों का प्रतिशत 23 है, जबकि बिना मास्क के 7 फीसदी लोग पकड़े गए हैं।

खबरें और भी हैं...