पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

शोकसभा:चैंबर के संरक्षक मोहनलाल अग्रवाल के निधन पर, साकची गुरुद्वारा में आज की जाएगी अरदास

जमशेदपुर19 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • नागरिक संघर्ष नीति ने शोकसभा आयोजित की, कहा- यह समाज के लिए क्षति

लौहनगरी के छोटे व्यापारियों की आवाज मोहनलाल अग्रवाल की आत्मा शांति के लिए साकची गुरुद्वारा में सोमवार सुबह 11 बजे अरदास होगी। इसकी जानकारी साकची गुरुद्वारा कमेटी के प्रधान और जमशेदपुर चैंबर ऑफ कॉमर्स के संस्थापक महासचिव हरविंदर सिंह मंटू ने दी। उन्होंने बताया कि मोहनलाल अग्रवाल ने अपना पूरा जीवन समाज के लिए समर्पित कर दिया। छोटे व्यापारियों को एक छतरी के नीचे एकत्रित किया और उनकी एकता के आधार पर व्यापारी हित में अनेक सराहनीय कार्य किए।

व्यापारियों के हित में मोहनलाल अग्रवाल के साथ उन्हें भी जेल जाना पड़ा था, लेकिन सिद्धांतों से समझौता नहीं किया था। जमशेदपुर चैंबर ऑफ कॉमर्स के ओर से मोहनलाल अग्रवाल के बेटे को संस्था की ओर से एक स्मृति पत्र भी भेंट किया जाएगा। वहीं, दूसरी तरफ झारखंड प्रदेश गुरुद्वारा कमेटी के प्रधान शैलेंद्र सिंह ने कहा है कि स्व. मोहनलाल अग्रवाल हमेशा समाज एवं व्यापारियों के हित के लिए लड़ते रहे हैं। उनका चले जाना केवल मारवाड़ी समाज ही नहीं सभी समुदाय के लोगों को नुकसान हुआ है। नागरिक संघर्ष नीति के अध्यक्ष सरदार शैलेंद्र सिंह की अध्यक्षता में एक शोक सभा की गई, जिसमें स्व. अग्रवाल के जीवन पर प्रकाश डालते हुए उनके निधन पर दो मिनट का मौन रखा गया। बैठक में परमात्मा मिश्रा, राजन सोनकर, मनोज साहू, बाबू खान, नरेंद्रपाल सिंह, स्वर्ण सिंह लाला, दिलीप गुप्ता थे।

खबरें और भी हैं...