दलमा में हथिनी का जन्मोत्सव:रजनी अब टीन एज में, 10 पाउंड का केक काट मनाया बर्थडे

जमशेदपुर20 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • 11 साल पहले घायल मिली रजनी का 12वां जन्मदिन धूमधाम से मना, दलमा वन्य प्राणी आश्रयणी के गेट को गुब्बारे से सजाया

11 साल पहले दलमा वन क्षेत्र के पीलीद गांव के पास गड्ढे में घायल मिली रजनी अब 13 साल (टीन एज) में प्रवेश कर गई। 7 अक्तूबर को ही वो गड्ढे में मिली थी। उस वक्त वो मात्र डेढ़ साल की थी। तब से लेकर हर साल 7 अक्टूबर को ही उसका जन्मदिन मनाया जाता है। गुरुवार को भी दलमा वन्य प्राणी आश्रयणी में रजनी का 12वां जन्मदिन धूमधाम से मनाया।

मौके पर मौजूद स्कूली बच्चों में भी भारी उत्साह दिखा। वन्य प्राणी आश्रयणी के गेट को गुब्बारे से सजाया गया था। रजनी ने बच्चों की मौजूदगी में 10 पाउंड का केक काटा। स्कूली बच्चों के अलावा इको विकास समिति के सदस्य समेत आसपास के ग्रामीण मौजूद थे। दलमा पश्चिमी के रेंजर दिनेश चंद्रा, वनपाल एचपी अग्रवाल समेत अन्य वनकर्मियों की देखरेख में रजनी का जन्मदिन मना। रेंजर ने स्कूली बच्चों के बीच वन्य जीवों से बचाव व वनों की सुरक्षा कैसे करें से संबधित किताबे बांटी।

अपने झुंड से बिछड़ गई थी डेढ़ साल की रजनी

रेंजर दिनेश चंद्रा ने कहा- रजनी झुंड से बिछड़ गई थी। पीलीद गांव के पास गड्ढे घायल मिली थी, जिसके बाद रजनी का करीब तीन माह तक टाटा जू में इलाज चला था। इलाज के बाद उसे दलमा लाया था। हम अपने बच्चों का जन्मदिन मना सकते हैं तो जानवरों का क्यों नहीं। ऐसे आयोजन से ग्रामीण जानवरों के प्रति जागरूक होंगे।

खबरें और भी हैं...