पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

बैठक:निबंधित पुत्र यूनियन-प्रबंधन के लिए सिर्फ आंकड़ा है- टाटा स्टील सेवानिवृत कर्मचारी

जमशेदपुर14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
फाइल फोटो - Dainik Bhaskar
फाइल फोटो
  • बैठक में टाटा वर्कर्स यूनियन की वर्तमान कमेटी व शीर्ष के खिलाफ गुस्सा

टाटा स्टील आश्रितों की बहाली को लेकर एक बार फिर से सुगबुगाहट शुरू हो गई है। निबंधित आश्रितों के समर्थन में अब सेवानिवृत कर्मचारी भी खुल कर सामने आ गए हैं। बहाली को लेकर रविवार को आश्रित और सेवानिवृत कर्मचारियों की एक बैठक हुई। बैठक में संयुक्त रूप से टाटा वर्कर्स यूनियन की वर्तमान कमेटी व शीर्ष के खिलाफ गुस्सा दिखा। कहा गया कि निबंधित आश्रित मैनेजमेंट और यूनियन के लिए बस एक आंकड़ा के समान है। उनकी बेरोजगारी, भुखमरी से कोई फर्क नहीं पड़ता है।

2019 से बहाली प्रभावित रखना, बहाली प्रक्रिया फॉर्म भरने के 30 दिन बाद तक भी अन्य व नियोजन का शुरू नहीं होना दुर्भाग्य है। यह मैनेजमेंट और यूनियन को कटघरे में खड़ा करता है। टाटा स्टील सीएसआर के तहत 200 लोगों की चल ही बहाली प्रक्रिया पर भी चर्चा की गई। कहा गया कि अगर यह बहाली हो सकती है, तो निबंधित की बहाली प्रक्रिया क्यों रोके रखी गई। बैठक में यूनियन के आर रवि प्रसाद के कार्यकाल पर चर्चा करते हुए कहा गया कि उन्होंने कम से कम मैनेजमेंट से हर बार हर स्तर पर बहाली को लेकर वार्ता की और निर्णायक स्थिति में लेकर गए। यूनियन को केवल विशेष मंच पर सम्मानित होने से फुर्सत नहीं है। निबंधित की बहाली में उम्र सीमा को लेकर भी यूनियन ने कोई पहल नहीं की। निबंधित पुत्रों ने कहा कि जब वे रतन टाटा के लिए फेसबुक, ट्विटर पर भारत रत्न देने की मुहिम चला सकते हैं, तो अपनी बहाली के लिए भी सोशल मीडिया का सहारा ले सकते हैं।

खबरें और भी हैं...