चलंत शव शीतगृह:साकची गुरुद्वारा ने संगत को समर्पित की बॉडी डीप फ्रीजर, जरूरतमंद परिवार को मिलेगी नि:शुल्क सुविधा

जमशेदपुर9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
साकची गुरुद्वारा में बॉडी डीप फ्रीजर ग्रहण करते संगत के पदाधिकारी। - Dainik Bhaskar
साकची गुरुद्वारा में बॉडी डीप फ्रीजर ग्रहण करते संगत के पदाधिकारी।
  • गुरुद्वारा के ग्रंथी ने की मंगलकामना की अरदास
  • बेंगलुरू से मंगाई गई मशीन; महज 5 मिनट में हो जाती है ठंडी, बिजली की भी कम खपत

साकची गुरुद्वारा कमेटी की ओर से बुधवार को मोबाइल बॉडी डीप फ्रीजर बुधवार को संगत को समर्पित की गई। यह जरूरतमंद परिवार को नि:शुल्क उपलब्ध होगा।

साकची गुरुद्वारा कमेटी को यह डेडबॉडी फ्रीजर (चलंत शव शीतगृह) लायंस क्लब सेंटेनरी की ओर से भेंट की गई है। बुधवार को दोपहर 1 बजे साकची गुरुद्वारा के ग्रंथी बाबा ने सर्व मंगलकामना की अरदास की। इसके बाद वाहन संगत को भेंट कर दिया गया।

मौके पर संगत की ओर से गुरुद्वारा के प्रधान हरविंदर सिंह मंटू, वरीय उपाध्यक्ष हरविंदर सिंह राजू ने लायंस क्लब सेंटेनरी के प्रतिनिधि विवेक चौधरी और सोनू बिंद्रा को शॉल व सिरोपा भेंट कर सम्मानित किया। मौके पर झारखंड गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के प्रधान शैलेंद्र सिंह, महासचिव दलबीर सिंह, झारखंड सिख विकास मंच के गुरदीप सिंह पप्पू, अजीत सिंह गंभीर, हरदयाल सिंह, सीनियर वाइस प्रेसिडेंट सुखविंदर सिंह राजू, भाजपा नेता सतवीर सिंह सोमू, त्रिलोचन सिंह पप्पी बाबा, पोली पाजी, अमरीक सिंह मिक्के, नौजवान सभा प्रधान सतपाल सिंह राजू, एसपी काले आदि मौजूद थे।

लायंस क्लब ने गुरुद्वारा कमेटी को दिया है फ्रीजर

विवेक चौधरी ने बताया- बेंगलुरू से मंगाई गई यह मशीन पांच मिनट में पूरी तरह ठंडी हो जाती है। इससे पार्थिव शरीर पर विपरीत मौसम का प्रभाव नहीं पड़ता है। स्टील बॉडी के कारण यह हाइजेनिक भी है। इसमें बिजली की कम खपत होती है।

प्रधान हरविंदर सिंह मंटू ने कहा- परिवार में अनहोनी होने पर कई बार पार्थिव शरीर को घरों में रखने की मजबूरी होती है। लोगों की जरूरत को देखते हुए कमेटी के आग्रह पर लायंस क्लब ने यह मशीन उपलब्ध कराई है।

खबरें और भी हैं...