पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

6 महीने में 116 लोगों ने मौत को गले लगाया:कोरोना में तनाव के कारण आत्महत्याएं रोकना संभव नहीं, रोजगार से सुसाइड में आएगी कमी

जमशेदपुर4 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • दो और ने लगाई फांसी, छह दिन में 11 ने किया सुसाइड, बेरोजगार युवाओं के अलावे छात्र भी पढ़ाई के दबाव में कर रहे
  • खुदकुशी, आत्महत्या निवारण संस्था के अध्यक्ष बोले- यह हिम्मत हारने का वक्त नहीं है

अप्रैल से सितंबर के बीच 18 से 45 साल के लोगों ने सबसे ज्यादा आत्महत्याएं की

मंगलवार को दो और लोगों ने मौत काे गले लगा लिया। एक की उम्र 55 और दूसरा 22 साल का युवा था। पिछले छह दिनों में 11 लोगों ने सुसाइड की। बेरोजगार युवाओं के अलावे छात्र भी पढ़ाई के दबाव में आत्महत्या कर रहे हैं। अप्रैल से लेकर सितंबर तक लगभग 116 लोगों ने आत्महत्या की है। इस दौरान 18 से लेकर 45 तक के उम्र के लोगों ने सबसे ज्यादा आत्महत्या की है। जागरुकता के लिए प्रशासन के साथ स्वयंसेवी संगठन इस दिशा में अभियान चला रहे हैं।

जीवन संस्था के संस्थापक डॉ. महावीर राम का कहना है कि प्रशासन के सहयोग से आत्महत्या निवारण के लिए चार फोन नंबर जारी किया गया था। इन नंबरों पर हर दिन 40 से अधिक फोन कॉल तनावग्रस्त लोगों के आ रहे हैं। विशेषज्ञ उसकी समस्याओं का निराकरण कर रहे हैं। सितंबर में सबसे ज्यादा कॉल लोगों के आए, जिन्होंने आत्महत्या करने की इच्छा जताई। तनाव, बेरोजगारी और नौकरी छूटने का कारण बताया। 15 दिन में 6 सौ से अधिक लोगों ने फोन किया। उन्होंने बताया कि जबतक कोरोना के डर का तनाव कम नहीं होगा, तबतक आत्महत्या रोकना संभव नहीं है।

सबसे ज्यादा लोगों की समस्या नौकरी छूटने, बेरोजगारी, आर्थिक स्थिति कमजोर होने की है। ऐसे में लोगों को जागरूक करने की जरूरत है। उसने बात करने की जरूरत है। यह हिम्मत हारने का वक्त नहीं है। वे खुलकर अपनी समस्या बताएं, इससे तनाव कम होगा और आत्महत्या की प्रवृत्ति नहीं बनेगी। लोगों को नौकरी चाहिए, उनकी आय का स्त्रोत बंद हो गया है। कोरोना काल में लोग एक जगह पर रहकर भी तनाव में आ जा रहे हैं। कुछ लोग घरों से निकलेंगे तो स्थिति सामान्य होगी। हम सभी को मिलकर आत्महत्या की बढ़ती संख्या को रोकना होगा। लोगों को जागरूक करना होगा।

डॉ. महावीर राम
जीवन संस्था के संस्थापक

मुस्कान संस्था के अध्यक्ष शशि कुमार मिश्रा ने कहा कि शहर में आत्महत्याएं बढ़ रही हैं। मुस्कान संस्था की ओर से इसको रोकने का प्रयास किया जा रहा है। हर वर्ग के लोग काफी परेशान हैं, मानसिक तौर पर बहुत बड़ी संख्या में लोग उलझन में चल रहे हैं। भविष्य की चिंताएं ज्यादा है, नौकरी, बेरोजगारी जैसी परेशानी बढ़ गई है। मुस्कान संस्था लोगों को काउंसलिंग कर रहा है। लोगों के फोन भी आ रहे हैं। बड़ी संख्या में लोगों को काउंसलिंग कर बचाया गया है। कोरोना काल में यह परेशानी काफी बढ़ गई है। लोगों को हौसला बनाए रखने की जरूरत है।

शशि कुमार मिश्रा
मुस्कान संस्था के अध्यक्ष

नमन संस्था आत्महत्या निवारण के क्षेत्र में काम करेगा। इस दिशा में पहली कोशिश होगी कि अपने साथियों के बीच जागरूकता का प्रसार और इसके बाद एक टीम बनाकर लोगों को जागरूक कराना। संस्था द्वारा निराशा, कुंठा, आत्मविश्वास की कमी, अकेलापन से दूर करने की कोशिश की जाएगी।
- अमरप्रीत सिंह काले, संस्थापक, नमन।

नमन की पहल, टीम बना लोगों को करेगा जागरूक

0

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- लाभदायक समय है। किसी भी कार्य तथा मेहनत का पूरा-पूरा फल मिलेगा। फोन कॉल के माध्यम से कोई महत्वपूर्ण सूचना मिलने की संभावना है। मार्केटिंग व मीडिया से संबंधित कार्यों पर ही अपना पूरा ध्यान कें...

और पढ़ें