पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

सांस्कृतिक कार्यक्रम:सरकार ने सुनिधि के भुगतान को नियम संगत बताया, कहा- कैबिनेट बैठक में पास हुई राशि

जमशेदपुर14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

2016 के राज्य स्थापना दिवस पर सांस्कृतिक कार्यक्रम के लिए आईं पार्श्व गायिका सुनिधि चौहान को किये गए भुगतान को सरकार ने नियम संगत बताया है। विधायक सरयू राय के इससे संबंधित अल्प सूचित प्रश्न के जवाब में सोमवार को सरकार ने सदन में सदस्यों के बीच जवाब वितरित किया। हालांकि इस प्रश्न पर चर्चा नहीं हो सकी।

मंगलवार को होगी। सरयू राय ने प्रश्न के पहले खंड में पूछा था कि क्या सीएम के वरीय आप्त सचिव ने सुनिधि चौहान के कार्यक्रम पर 44.37 लाख के व्यय का प्रस्ताव दिया था। सरकार ने जवाब में कहा है कि वरीय आप्त सचिव के माध्यम से कार्यक्रम करानेवाली एजेंसी आर्चर इंटरटेनमेंट प्राइवेट लिमिटेड द्वारा दिये गये 44.37 लाख रुपये का भाव पत्र प्राप्त हुआ था।

उसी के अनुसार भुगतान किया गया। हालांकि सरकार के जवाब के संबंध में पूछने पर सरयू राय ने कहा है कि प्रश्न सोमवार को पुट (स्थगित) हो गया है। मंगलवार को इस प्रश्न के जवाब पर चर्चा के बाद वह कुछ बोलेंगे। प्रश्न के दूसरे खंड में सरयू राय ने पूछा था कि सूर्य मंदिर समिति सिदगोड़ा के संरक्षक तत्कालीन मुख्यमंत्री थे। सरकार ने अपने उत्तर में कहा है कि यह सरकारी कार्यक्रम से संबंधित विषय नहीं है। फिर तीसरे खंड में सरयू राय ने पूछा था कि सुनिधि चौहान के कार्यक्रम पर कुल 55.22 लाख रुपये खर्च हुए, जो 44.47 लाख के स्वीकृत व्यय से 10.94 लाख अधिक है।

एजेंसी को 44.27 लाख का ही भुगतान हुआ : जवाब में सरकार ने कहा है कि एजेंसी को उसके भाव पत्र के अनुसार 44.27 लाख का ही भुगतान किया गया। उपायुक्त रांची को मुख्य कलाकार व सहायक कलाकारों के भोजन, वाहन और होटल रेडिशन ब्लू में ठहराने का निर्देश दिया गया था। डीसी द्वारा बाद में में भोजन आदि पर 2.97 लाख, वाहन पर 58,525 रुपए एवं एयर टिकट पर 7.42 लाख रुपये, कुल 10.97 लाख रुपये का भुगतान किया गया। कार्यक्रम की समाप्ति के बाद इस अतिरिक्त भुगतान पर भी कैबिनेट की 28 दिसंबर 2016 को हुई बैठक में घटनोत्तर स्वीकृति भी ले ली गई थी।

खबरें और भी हैं...