मानवता की मिसाल:प्रसूता की मदद के लिए ढाई किमी पीछे लाई गई ट्रेन

जमशेदपुर7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
अस्पताल में सुरक्षित बच्ची। - Dainik Bhaskar
अस्पताल में सुरक्षित बच्ची।
  • टाटानगर स्टेशन से खुली आनंद विहार-भुवनेश्वर स्पेशल ट्रेन का मामला

टाटानगर रेलवे स्टेशन पर बुधवार सुबह रेलकर्मियों ने मानवता की मिसाल की पेश की। प्रसव पीड़ा से तड़प रही महिला और उसके बच्चे को बचाने के लिए टाटानगर स्टेशन से ढाई किमी आगे निकल चुकी आनंद विहार-भुवनेश्वर स्पेशल ट्रेन को वापस लाया गया। इसके बाद महिला को अस्पताल ले जाया गया। वहां महिला ने एक बच्ची को जन्म दिया। जलेश्वर की रहने वाली महिला परिवार सहित आनंद विहार से लौट रही थी।

आरपीएफ के एएसआई आरए सिंह ने बताया- बुधवार तड़के 4.10 बजे आनंदविहार-भुवनेश्वर स्पेशल ट्रेन टाटानगर स्टेशन से खुली। वे अपनी टीम के साथ ट्रेन में स्कार्ट के लिए चढ़े थे। ट्रेन के एस-5 कोच के सीट नंबर-65 पर सफर कर रही 27 वर्षीय रानू दास को प्रसव पीड़ा शुरू हो गई। परिजनों ने आरपीएफ से मदद मांगी। उन्होंने फौरन रेलवे कंट्रोल रूम को फोन कर स्थिति की जानकारी दी। तब तक ट्रेन स्टेशन से करीब ढाई किमी आगे निकल गई थी। टाटानगर के बाद इस ट्रेन का अगला ठहराव हिजली में था। इसलिए रेलवे अधिकारियों ने ट्रेन को टाटानगर स्टेशन पर लाने का निर्देश दिया। साथ ही टाटानगर रेलवे अस्पताल को मेडिकल टीम के साथ स्टेशन पहुंचने को कहा गया। स्टेशन से महिला को अस्पताल ले जाया गया।

खबरें और भी हैं...