पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

कोरोना का असर:इस बार न श्रीराम की बारात निकलेगी न जनकपुरी सजेगी, 98 साल पुरानी रामलीला का भी मंचन नहीं

जमशेदपुर13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
राम बारात(फाइल फोटो)
  • 1979 दंगे के बाद 5 साल के लिए प्रशासन ने आयोजन पर लगा दी थी रोक

इस बार लौहनगरी में विजयादशमी के मौके पर मर्यादा पुरुषोत्तम श्रीराम की न तो बारात निकलेगी, न ही जनकपुरी सजेगी। रामलीला उत्सव समिति ने कोरोना के कारण राम विवाह व साकची मैदान में होने वाली रामलीला का आयोजन नहीं करने का निर्णय लिया है। 98 वर्षों के इतिहास में ऐसा दूसरी बार हो रहा है, जब शहर के लोगों की आस्था से जुड़ा भव्य आयोजन नहीं हो सकेगा। इससे पहले 1979 दंगे के बाद पांच साल के लिए जिला प्रशासन ने रोक लगा दी थी।

1985 में समिति के सदस्यों के प्रयास से फिर से शुरू हुआ तब से लगातार मंचन हो रहा है। रामलीला उत्सव समिति के कार्यकारी अध्यक्ष मनोज मिश्रा ने बताया कि इस बार कलाकारों को बाहर से भुलाना मुमकिन नहीं है, इसलिए समिति 3 घंटे का अखंड रामायण पाठ करने पर विचार कर रही है, जिसमें रामजी के जन्म से लेकर राज्याभिषेक की कथा होगी।

रामस्नेही मिश्र ने 1922 में साकची में शुरू कराई थी रामलीला

साकची में होने वाली रामलीला का पूरे झारखंड में नाम था। दूर-दूर से कलाकार इसमें भूमिका निभाते थे। दर्शक भी रामलीला देखने आते थे। रामस्नेही मिश्र की ओर से 1922 में शुरू रामलीला छोटानागपुर संतालपरगना की इकलौती बड़ी रामलीला थी। उनके निधन के बाद मिश्र परिवार उनकी विरासत को आगे बढ़ा रहा है। परिवार के सदस्य आयोजन में जमापूंजी लगाने को तैयार रहते हैं। कुछ समाजसेवियों का भी सहयोग मिलता है।

इस बार न रामलीला होगी, न ही राज्याभिषेक हो पाएगा: अध्यक्ष

नवरात्रि (दुर्गा पूजा) में पूरे नो दिन राम भक्त रामजी की भक्ति में देर रात तक मैदान में डटे रहते थे। कलश स्थापन के दिन नारद संवाद से रामलीला की शुरुआत होती थी। दशहरे के दिन रावण दहन व रामजी के राज्याभिषेक के साथ समापन होता रहा है। लेकिन इस बार अायाेजन नहीं हाे पाएगा।
-मनोज मिश्रा, कार्यकारी अध्यक्ष रामलीला उत्सव समिति

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज का दिन परिवार व बच्चों के साथ समय व्यतीत करने का है। साथ ही शॉपिंग और मनोरंजन संबंधी कार्यों में भी समय व्यतीत होगा। आपके व्यक्तित्व संबंधी कुछ सकारात्मक बातें लोगों के सामने आएंगी। जिसके ...

और पढ़ें