पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Jharkhand
  • Jamshedpur
  • Throughout The Day, The Harmonium Would Play, The Mother Scolded And Adrika Started Studying; If The Topper Is Made, Neither The Mother Believes Nor Herself

आईसीएसई बोर्ड में लड़कियाें का डंका:दिनभर हारमोनियम बजाती, मां डांटती तो पढ़ने लगती आद्रिका; टॉपर बनी तो न मां को भरोसा हुआ न खुद को

जमशेदपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • 12वीं में 9 और 10वीं में 5 छात्राएं टाॅप-10 में
Advertisement
Advertisement

मेरिट लिस्ट में आईसीएसई (10वीं) में सेक्रेड हार्ट कॉन्वेंट की आद्रिका घोष ने 99.4 प्रतिशत अंक लाकर झारखंड में टाॅप किया है। आद्रिका ने कहा कि दिनभर हारमोनियम बजाती थी, मां डांटती तो पढ़ने लगती थी। टॉपर बनीं तो मां को भी भरोसा नहीं हुआ और न ही खुद को। वहीं लोयोला के अनिकेत आनंद ने 99 फीसदी अंक लाकर दूसरा स्थान पाया है।

आईएससी आर्ट्स में लोयोला की आयशनी मिश्रा ने 98.25 अंक लाकर स्टेट में पहला स्थान प्राप्त किया है, जबकि कॉमर्स में एलएफएस की दीया चक्रवर्ती ने टाॅप किया है। 12वीं साइंस के स्टेट टॉपर जमशेदपुर के कारमेल जूनियर कॉलेज ऐश्वर्या सेम व राजेंद्र विद्यालय के आयुष कुमार 99.5 अंक लाकर पहले स्थान पर रहे। इन दोनों छात्रों के राष्ट्रीय स्तर की टॉप टेन सूची में शामिल होने की संभावना है।

संगीत से सफल हुई घोष की साधना

से   क्रेड हार्ट कॉन्वेंट स्कूल की आद्रिका घोष ने 10वीं में 99.4 प्रतिशत अंक हासिल कर स्टेट में टॉपर बनी है। सोनारी आदर्शनगर की रहने वाली आद्रिका दो घंटे ही पढ़ाई करती थी। वो कहती है कि पढ़ने के लिए मां हमेशा बोलती रहती थी। मां के डांट सुनने के बाद पढ़ती थी। दिनभर हारमोनियम पर गायन करती, टेलीविजन देखती थी। आद्रिका कहती है कि उम्मीद से बहुत ज्यादा अंक हासिल हुआ है।

जब रिजल्ट देखी तो मां को विश्वास नहीं हुआ। मां ने तुरंत कहा- ये नंबर तुम्हारा नहीं हो सकता। फिर से जांच की तब जाकर मां को विश्वास हुआ कि बेटी इतना अंक हासिल की है। पिता कोरक घोष मल्टीनेशनल कंपनी में सिविल मैनेजर पद पर कोलकाता में हैं। आद्रिका कहती है कि टॉपर बनने के लिए 12-13 घंटे पढ़ने की कोई जरुरत नहीं। कम पढ़कर अन्य मनोरंजन कर भी टॉपर बना जा सकता है। वो कहती है कि इकॉनोमिक्स में पीएचडी कर प्रोफेसर बनना चाहती है।

  •  टॉपर बनने के लिए 12-13 घंटे पढ़ने की जरुरत नहीं
  •  कम पढ़कर व अन्य मनोरंजन से भी अच्छे अंक लाए जा सकते हैं। 

12वीं आर्ट्स में टॉपर आयशनी : कभी ट्यूशन नहीं, रोजाना 3 घंटे पढ़ाई कर बनीं स्टेट टॉपर

लो योला की आयशनी मिश्रा 12वीं आर्ट्स में झारखंड टाॅपर बनी है। 98.2 प्रतिशत अंक मिले हैं। आयशनी ने कहा कि वह आईएएस अधिकारी बनना चाहती है, इसलिए उसने साइंस के बजाए आर्ट्स की पढ़ाई की। आयशनी का कहना है कि उन्हेंं पता था कि उनका रिजल्ट बेहतर होगा वह अपने प्रदर्शन से खुश है। 10वीं में उन्हे 93.25 प्रतिशत अंक मिला था। आयशनी बताती हैं कि वह रोजाना तीन घंटे नियमित पढ़ाई करती थी। कभी ट्यूशन नहीं पढ़ी। परिवार में पढ़ाई को लेकर किसी तरह का कोई दवाब नहीं था।

इस कारण उन्हें संकाय बदलने में कोई दिक्कत नहीं हुई। पिता प्रकाश मिश्रा व्यवसायी हैं और मां पुष्पांजलि मिश्रा डीबीएमएस इंग्लिश स्कूल कदमा की शिक्षिका हैं। परीक्षा नहीं होने के कारण आयशनी को साइकोलॉजी में औसत अंक मिला है।  कोविड-19 के कारण एवरेज मार्किंग की प्रक्रिया पर उन्होंने कहा कि कोई छात्र खुश है तो कोई खुश नहीं। बोर्ड ने जो भी कदम उठाया अच्छा ही होगा।

Advertisement
0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव- अगर कोई विवादित भूमि संबंधी परेशानी चल रही है, तो आज किसी की मध्यस्थता द्वारा हल मिलने की पूरी संभावना है। अपने व्यवहार को सकारात्मक व सहयोगात्मक बनाकर रखें। परिवार व समाज में आपकी मान प्रतिष...

और पढ़ें

Advertisement