दिल्ली से स्वच्छता पुरस्कार लेकर लौटी टीम:गीला-सूखा कचरा अलग कर निस्तारण के लिए मरीन ड्राइव में डंपिंग स्थल पर लगेगी ट्राॅमेल मशीन

जमशेदपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
जेएनएसी कर्मचारियाें ने एसअाे का किया स्वागत - Dainik Bhaskar
जेएनएसी कर्मचारियाें ने एसअाे का किया स्वागत

घराें से निकलने वाले कचरे काे अलग कर उसकी रिसाइकलिंग के लिए जेएनएसी साेनारी मरीन ड्राइव स्थित डंपिंग स्थल पर ट्राॅमेल मशीन लगाएगी। यह मशीन गीला-सूखा कचरा अलग कर उसके निस्तारण के साथ ही रिसाइकिल करेगी। जेएनएसी के विशेष पदाधिकारी (एसओ) कृष्ण कुमार ने कहा- मशीन शहर पहुंच गई है। डंपिंग यार्ड में इसे जल्द शुरू किया जाएगा।

कचरे की रिसाइकलिंग कर इससे जैविक खाद बनाई जाएगी। एसओने बताया- अभी एक ही मशीन मंगाई गई है। इसकी सफलता के बाद दूसरी मशीन मंगाई जाएगी। इसके दाे फायदे हाेंगे। एक ताे डंपिंग यार्ड में कचरे का अंबार नहीं लगेगा। दूसरा जैविक खाद का इस्तेमाल शहर के विभिन्न पार्काें-बागान में हाेगा।
रैंकिंग बेहतर करने के लिए कमियाें काे सुधारेंगे : एसओ

अवॉर्ड मिलने पर एसओ कुष्ण कुमार का मंगलवार काे जेएनएसी कार्यालय में कर्मचारियाें ने जाेरदार स्वागत किया। माैके पर सर्वेक्षण में सहयाेग करने वाले पप्पू सरदार व हरविंदर सिंह मंटू भी माैजूद थे। एसओ ने कहा- स्वच्छता सर्वेक्षण 2022 में जमशेदपुर काे देश के टाॅप 10 शहराें में शामिल करने के लिए जुस्काे के साथ मिलकर अभी से काम शुरू किया जाएगा। इसमें आम जनता का सहयाेग भी चाहिए। सर्वेक्षण में जेएनएसी जिन क्षेत्राें में पीछे रहा, उसे सुधारा जाएगा। सर्टिफिकेशन और अन्य क्षेत्राें में बेहतर काम करने की जरूरत है।

खबरें और भी हैं...