दीप प्रज्ज्वलित कर कार्यक्रम का किया उद्‌घाटन:समय रहते समाज सचेत नहीं हुआ तो भविष्य में पेयजल की समस्या विकराल होगी: विस अध्यक्ष

नाला4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
दीप प्रज्जवलित कर कार्यक्रम का उद्‌घाटन करते विस अध्यक्ष। - Dainik Bhaskar
दीप प्रज्जवलित कर कार्यक्रम का उद्‌घाटन करते विस अध्यक्ष।

वन पर्यावरण एवं जलवायु परिवर्तन विभाग के सौजन्य से सोमवार को प्रखंड क्षेत्र के पेटूआसोल गांव में 73वां वन महोत्सव मनाया गया। स्थानीय विधायक सह विधानसभा अध्यक्ष रविंद्र नाथ महतो, डीएफओ आजिंक्य वनकर, एसपी मनोज स्वर्गीयरी ने संयुक्त रुप से दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम का उद्घाटन किया।

इस मौके पर विस अध्यक्ष ने कहा कि झारखंड में 33 फीसदी से भी कम क्षेत्र वन से आच्छादित है। वृक्ष कम हो जाने तथा पौधरोपण के प्रति लोगों का आकर्षण नहीं बढ़ने के कारण पर्यावरण पर प्रतिकूल असर पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि जलवायु में बदलाव आने से इस साल सुखाड़ की स्थिति पैदा हो गई है। समय रहते अगर समाज सचेत नहीं हुआ तो निकट भविष्य में पेयजल का संकट गहराएगा।

पेड़ों से मिलने वाला लाभ की जानकारी देते हुए उन्होंने पेड़ लगाने का आग्रह किया। कहा कि नाला विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत मालंचा पहाड़ के आसपास, देवलेश्वर मंदिर परिसर, गिरिधारी मंदिर परिसर, सिंह वाहिनी मंदिर परिसर में पौधरोपण करने की जानकारी दी।

विस अध्यक्ष के द्वारा पौधरोपण करते हुए औरों को पौधा लगाने का प्रोत्साहन किया गया। इससे पहले उपस्थित लोगों ने विस अध्यक्ष एवं अतिथियों का भव्य स्वागत किया तथा पारंपरिक नृत्य गीत प्रस्तुत किया गया। इस अवसर पर डीएफओ आजिंक्य वनकर देवीदास ने कहा की चालू वित्तीय वर्ष के मई माह में दो सौ एकड़ जमीन पर 1 लाख 63 हजार पौधा लगाया गया है।

खबरें और भी हैं...