संक्रमण:पशुओं में लम्पी चर्मरोग संक्रमण के लक्षण

नारायणपुर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

जिले में लम्पी चर्म रोग के लक्षण मिलने की जानकारी प्राप्त हुई है। लम्पी स्किन रोग विषाणु जनित संकमित रोग है जो रोगी पशु से स्वस्थ पशु में छूने एवं मच्छर व मक्खियों के माध्यम से फैलता है। इस रोग में बुखार के साथ पूरे शरीर पर छोटी-छोटी गुठली बन जाती है जो बाद में घाव में तब्दील हो जाती हैं। एलएसडी संकमण से दुधारू पशुओं की उत्पादन क्षमता, भारवाहक पशुओं की कार्य क्षमता और कम उम्र के पशुओं की शारीरिक विकास पर विपरीत प्रभाव पड़ता है। उक्त संक्रमण के रोकथाम के लिए कलेक्टर ने जिले में पशुओं में सक्रमण की रोकथाम के लिए आदेश जारी किए हैं।

जारी आदेश में कहा गया है कि जिले में पशु मेला आदि की बिक्री, आयोजन पर पूरी तरह से रोक लगाई जाती है। निकटवर्ती जिलों और राज्यों से संक्रमित पशुओं के लाए या बेचे जाने पर चेक पोस्टों के माध्यम से निगरानी रखी जाए। वहीं संक्रमित पशुओं को स्वस्थ पशुओं के अलग रखने कहा गया है। जारी आदेश में यह भी कहा गया है कि संक्रमित ग्रामों के 5 किमी परिधि में गोटपाक्स वैक्सीन से रिंग वैक्सीनेशन किया जाए।

खबरें और भी हैं...