जागरुकता कार्यक्रम:नुक्कड़ नाटक के माध्यम से गांव में चलाया गया जागरुकता कार्यक्रम

जामताड़ाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

किशोरी एवं किशोरों की शिक्षा की प्रचार प्रसार और बाल विवाह की दरों में कमी लाने के लिए उमंग परियोजना द्वारा पहल किया जा रहा है। बदलाव फाउंडेशन एवं आईसीआरडब्लयु विगत 3 वर्षों से जामताड़ा जिला के दो प्रखंड नाला एवं जामताड़ा के 123 गांव एवं 27 हाई स्कूल में किशोरियों का सशक्तिकरण कर बाल विवाह की दरो में कमी लाने को लेकर उमंग परियोजना का संचालन किया जा रहा है।

उसी के उपलक्ष्य में बदलाव फाउंडेशन एवं के संयुक्त तत्वधान में केवटजाली गांधी आश्रम में 5 दिवसीय नाटक आधारित संचार और अपने व्यक्तित्व विकास को लेकर नाला प्रखंड के 8 गाव मोहनपुर, जबडदहा, जगरनाथपुर, कलिपहाडी, सुन्दरवाडी, नाला, हिजलजूरी से 40 किशोरियों एवं किशोरों को 5 दिवसीय कार्यशाला दो बार आयोजित किया गया

जिसमें प्रशिक्षक के रूप में बंगला नाटक कोलकाता से 6 प्रशिक्षक ने अपना अनुभव से सभी प्रतिभागियों को प्रशिक्षण दिया और 7 टीम को तैयार किया गया जो 5 गांव में सभी टीमों के द्वारा जो नाटक सिखा वह सभी गाव में कर के दिखाया गया नाटक के माध्यम से दिखाया गया। बदलाव फाउंडेशन के सचिव अरविन्द सिंह ने कहा कि कम समय में इतना उत्साहवर्धन नाटक प्रस्तुति किया गया इसलिए सभी टीम को बदलाव परिवार की ओर से धन्यवाद दिया गया।

कार्यशाला में उपस्थित शक्ति घोष एवं बिनित झा के द्वारा बताया गया की सभी टीम के साथ पुनः 15-15 दिन के बाद दो बार एक दिवसीय कार्यशाला गांव स्तर पर आयोजित कर के टीम का फोलौप किया जायेगा। नाला प्रखंड के उमंग परियोजना के प्रखंड समन्वयक रामरूप कुमार सिंह आदि मौजूद थे।

खबरें और भी हैं...