बरवाडीह के बालिका उच्च विद्यालय में:केवल 1 शिक्षिका 351 छात्राएं करती हैं पढ़ाई, स्कूल में चलती हैं 4 कक्षाएं

बरवाडीह3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

बरवाडीह प्रखंड का एकमात्र बालिका उच्च विद्यालय आज शिक्षकों की कमी के कारण बंद होने के कगार पर है। विद्यालय में जहां पढ़ने वाली कुल 351 छात्राएं हैं और 4 कक्षाएं संचालित होती है। जिनके लिए विद्यालय में एकमात्र शिक्षक के रूप में नुसरत अंजुम कार्य कर रही हैं। वहीं एक अन्य शिक्षिका जो प्रतिनियोजन पर है।

जबकि, एक अन्य प्रतिनियुक्त शिक्षक विक्रांत की प्रतिनियुक्ति रद्द कर उनके मूल विद्यालय में भेज दिया गया है। जिसके कारण पूरा विद्यालय के पठन-पाठन समेत सभी विभागीय कार्य एक शिक्षिका के भरोसे चल रहा है। वहीं पूरे मामले को लेकर बुधवार को जिप सदस्य संतोष शेखर और सांसद प्रतिनिधि कन्हाई प्रसाद ने बालिका उच्च विद्यालय पहुंचकर विद्यालय की शिक्षिका और छात्राओं से मुलाकात करते शैक्षणिक कार्य की जानकारी ली। जहां विद्यालय के छात्राओं के अनुपात के अनुसार एकमात्र शिक्षिका का होना शिक्षा व्यवस्था के लिए दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुए जिप सदस्य चिंता जाहिर की। जिप सदस्य संतोषी शेखर ने कहा कि प्रखंड में प्रतिनियोजन के नाम पर विभाग के द्वारा सिर्फ और सिर्फ अनदेखी और पैसे का खेल किया जाता है। जिसका नतीजा यह है कि प्रखंड के एकमात्र विद्यालय जो बालिकाओं के उस संचालित होता है। वह एकमात्र शिक्षिका है।

जबकि, इस मामले को लेकर पूर्व के जिला परिषद की बैठक में मैंने मामले को उठाने का काम किया था, पर विभाग के द्वारा शिक्षकों की प्रतिनियुक्ति या पदस्थापना करने के जगह उल्टा शिक्षकों के अनुपात को कम करने का काम किया जा रहा है, जो अपने आप में प्रखंड के छात्राओं के भविष्य खिलवाड़ करने के बराबर है।

जिप सदस्य संतोषी शेखर ने कहा कि पूरे मामले को लेकर शुक्रवार को आयोजित होने वाली जिला परिषद की बैठक में रखने का काम किया जाएगा। साथ ही, विभाग को या अल्टीमेटम भी दी जाएगी कि एक सप्ताह के अंदर प्रखंड के एकमात्र बालिका उच्च विद्यालय में शिक्षकों की पदस्थापना या प्रतिनियुक्ति की जाए ।

खबरें और भी हैं...