विकास योजना में लापरवाही बरतने वाले पर सीधी कार्रवाई:जनता के पैसों का दुरूपयोग करने वाले पदाधिकारी पर होगी कार्रवाई : पूनम

लातेहार2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

समाहरणालय सभागार में शुक्रवार को जिला परिषद अध्यक्ष पूनम देवी के अध्यक्षता में जिला परिषद की बैठक हुई। जिला परिषद अध्यक्ष ने कहा विकास योजना में लापरवाही बरतने वाले पर सीधी कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि जनता के पैसों को दुरूपयोग करने वाले पदाधिकारी पर नकेल कसा जाएगा। उन्होंने बताया कि सरकार के द्वारा की जा रही योजनाओं को जांच पड़ताल कर भुगतान करने की बात कही। जिला परिषद उपाध्यक्ष अनीता देवी ने कहा की सरकार की सोच है कि अंतिम व्यक्ति तक विकास की किरण पहुंचे। लेकिन कुछ लापरवाह पदाधिकारी के कारण सरकार का उद्देश्य पूर्ण नही हो पा रहा है। उन्होंने लापरवाह पदाधिकारी को चेतावनी देते हुए कहा की विकास की योजना में किसी प्रकार की समझौता बर्दाश्त नही की जायेगी। बैठक के दौरान पूर्व की बैठक में आये मामलों की समीक्षा बारी बारी से की गई। बैठक में जिला परिषद उपाध्यक्ष अनीता देवी के द्वारा बालूमाथ हॉस्पिटल में चिकित्सक की कमी रहने पर सिविल सर्जन से चिकित्सक के प्रतिनियुक्ति करने की बात कही। जिस पर सिविल सर्जन ने सप्ताह में दो दिन शनिवार एवं मंगलवार को चिकित्सकों नियुक्त करने की बात कही। बैठक में बरवाडीह जिला परिषद सदस्य कन्हाई सिंह के द्वारा जिले में शिक्षकों का दूसरे जगह डिक्टेशन होने पर सदन पर बात रखी गई। जिस पर जिला शिक्षा अधीक्षक के द्वारा दो दिनों के अंदर सभी डिक्टेशन में शिक्षकों का लेटर निकाल कर अपने अपने मूल स्थानों में प्रतिनियुक्त करने की बात कही। वहीं हाथी से हुए नुकसान को लेकर मुआवजा को लेकर बात रखी गई।

जिस पर वन विभाग के द्वारा ससमय मुआवजा की राशि देने का आश्वासन दिया गया। बैठक में बरवाडीह प्रखंड के पश्चिमी क्षेत्र की जिला परिषद सदस्य संतोषी शेखर के द्वारा पूर्व की बैठक में प्रखंड के खुरा, छेचा और मंगरा में बालू घाट शुरू कराने की मांग रखी गई थी। जिस पर खनन विभाग के द्वारा आने वाले एक महीने के अंदर इन तीनों बालू घाटों को जांच करवा कर बालू घाट की एक कैटेगरी के अनुसार होने पर शुरू कराने की बात कही। बरवाडीह प्रखंड मुख्यालय अंतर्गत बस स्टैंड में स्वपोषी योजना के तहत विस्थापित दुकानदारों के लिए दुकान बनाने की मांग सदन में रखने का काम किया गया। जिसमें उप विकास आयुक्त ने सहमति जताते हुए प्रखंड विकास पदाधिकारी सह अंचलाधिकारी राकेश सहाय को प्रस्ताव भेजने का निर्देश दिया है।

जिससे दुकान बनने का रास्ता अब पूरी तरह साफ हो चुका है। सरयू के जिला परिषद सदस्य बुद्धेश्वर उरांव ने बिजली नहीं जलने के बाद भी उपभोक्ताओं के नाम पर बिजली बिल आने पर नाराजगी व्यक्त की गई। इसके साथ ही सभी उपभोक्ताओं के बिजली बिल माफ करने को लेकर सदन में बात रखी गई। जिस पर जांच कमेटी का गठन किया गया। लातेहार जिला परिषद सदस्य विनोद उरांव के द्वारा भूमि संरक्षण विभाग पर पैसे लेकर तालाब देने का आरोप लगाया गया। जिस पर उप विकास आयुक्त के द्वारा एक जांच कमेटी बनाकर जांच करने का निर्देश दिया गया। बैठक में उप विकास आयुक्त सुरेंद्र कुमार वर्मा, एसडीएम शेखर कुमार आईटीडीए निदेशक बिंदेश्वरी ततमा, सिविल सर्जन डा. दिनेश कुमार, सांसद प्रतिनिधि विनीत मधुकर, बरवाडीह जिला परिषद सदस्य संतोषी कुमारी, संपतिया देवी, रमेश राम, लातेहार जिला परिषद सदस्य विनोद उरांव, बारियातू प्रमुख उर्मिला देवी, जिला खनन पदाधिकारी आनंद कुमार समेत कई लोग मौजूद थे।

खबरें और भी हैं...