औरंगा नदी के घाटों से बालू का अवैध उठाव:शहर में चल रहे विकास योजना में लगाया जा रहा है

लातेहार2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
औरंगा नदी से बालू उठाव में लगे ट्रैक्टर। - Dainik Bhaskar
औरंगा नदी से बालू उठाव में लगे ट्रैक्टर।

औरंगा नदी के सभी बालू घाटों से बालू का अवैध उठा धड़ल्ले से किया जा रहा है। चटनाही,पंपू कल लातेहार, रेलवे पंपूकल, नवोदय जाने वाले पुल के समीप श्मशान घाट के पास करमाचुंआ, जालिम पुल ,हरखा नदी पुल से बालू का अवैध ढंग से उठाव कर शहर में चल रहे विकास योजना में लगाया जा रहा है।

इन घाटों पर अहले सुबह 4 बजे से दर्जनों ट्रैक्टर से बालू का उठाव कर सरेआम शहर में चल रही विकास योजनाओं तक पहुंचाया जा रहा है । बालू के अवैध उठाव लगे ट्रैक्टर मालिकों का गिरोह शहर के चौक चौराहा पर जमे रहते हैं। सुबह 4 बजे से दिन के 9 बजे तक शहर में नो एंट्री तक मुख्य सड़क से शहर के गलियों में बालू लेकर ट्रैक्टर गुजरते रहते हैं परंतु खनन विभाग द्वारा बालू के अवैध उत्खनन में जुटे ट्रैक्टर संचालकों पर कोई कार्रवाई नहीं की जाती है।

जिन रास्ते से बालू का उठाव कर शहर लाया जाता है रास्ते के किनारे के घरों में रहने वाले लोगों की नींद ट्रैक्टर के चलने से हराम हो जाती है । बिना ड्राइवरी लाइसेंस के कई नाबालिग ट्रैक्टर चालक तेज गति से ट्रैक्टर चलाते हुए शहर तक आते हैं।

विभाग के अधिकारियों के छापेमारी पर निकलने के पहले कारोबारियों को इसकी खबर खनन विभाग को मिल जाती है। इस कारण अनजान नए ट्रैक्टर चालक खनन विभाग के पकड़ में आते हैं। स्थानीय लोगों ने जिले के उपायुक्त भोर सिंह यादव से अवैध उठाव पर रोक लगाने की मांग की है।

खबरें और भी हैं...