डायन का आरोप लगा फिर एक महिला की हत्या:10 लोगों पर लगा महिला पर जानलेवा हमला करने का आरोप, देर रात महिला से की गई थी मारपीट

पदमा (हजारीबाग)एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
मृतिका शांति देवी। (फाइल) - Dainik Bhaskar
मृतिका शांति देवी। (फाइल)

पदमा के सरैया गांव में डायन-बिसाही के आराेप में बुजुर्ग महिला की पीट-पीटकर हत्या कर दी गई। कैलाश भुइयां की पत्नी शांति देवी (60) काे उनके ही गांव के लाेगाें ने शुक्रवार की देर रात डायन बताकर मार डाला। मृतका के बेटे संजय भुइयां के बयान पर शनिवार काे पदमा थाना में गांव के राजकुमार भुइयां, केशर भुइयां, पप्पू भुइयां समेत 10 ग्रामीणाें पर केस दर्ज किया गया है।

परिजनाें के अनुसार, शांति देवी पूजा-पाठ करती थी। कई लाेग उनसे झाड़फूंक कराने आते थे। कुछ दिनाें से आराेपियाें के घर के सदस्य बीमार हाे रहे थे। उनकाे आशंका थी कि शांति देवी के टाेना-टाेटका से घर के लाेग बीमार हाे रहे हैं। मृतका के बेटे संजय के मुताबिक, शुक्रवार की रात उसके घर में सभी साेए हुए थे। तभी राजकुमार भुइयां और अन्य पहुंचे अाैर दरवाजा खटखटाने लगे। उसकी मां ने दरवाजा खाेला ताे आराेपी उन्हें डायन बताकर पीटने लगे। उसकी मां काे आराेपियाें ने लाठी-डंडे से पीटा।

मृतका के बेटे ने कहा- वह चिल्लाती रही कि उसने कुछ नहीं किया। वह जादू-टाेना नहीं करती, लेकिन किसी ने नहीं सुनी। आखिरकार मां ने दम ताेड़ दिया। इधर, जानकारी पाकर पुलिस सरैया गांव पहुंची और शव काे पाेस्टमाॅर्टम के लिए हजारीबाग भेजा है। पदमा थानेदार अजीत कुमार ने बताया कि मृतका के बेटे के बयान पर मामला दर्ज कर लिया गया है। आराेपी फरार हैं। उनकी गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है।

रोते-बिलखते परिजन।
रोते-बिलखते परिजन।

घटना की जानकारी पाकर पदमा पुलिस तत्काल मौके पर पहुंची और शव को लेकर थाने ले आई। जहां पोस्टमाॅर्टम के लिए शव को हजारीबाग भेज दिया गया। इधर, थाना प्रभारी अजीत कुमार ने बताया कि मामले को लेकर छानबीन जारी है और दिए गए आवेदन में नामित लोगों को धरपकड़ के लिए छापेमारी की जा रही है।

खबरें और भी हैं...