दो नाबालिग बहनों पर बच्ची की हत्या का आरोप:आम तोड़ने के विवाद में 6 साल की बच्ची की गला दबाकर हत्या, झाड़ियों से मिली बच्ची की लाश

​​​​​​​चक्रधरपुरएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
पकुवाबेड़ा गांव निवासी लखींद्र सुंडी की 6 साल की बेटी निर्मला सुंडी के रूप में की गई। - Dainik Bhaskar
पकुवाबेड़ा गांव निवासी लखींद्र सुंडी की 6 साल की बेटी निर्मला सुंडी के रूप में की गई।

चक्रधरपुर थाना अंतर्गत पकुवाबेड़ा गांव में दो नाबालिक बहनों पर 6 साल की एक बच्ची की निर्मम हत्या का आरोप लगा है। घटना गुरुवार की है। आम तोड़ने के विवाद में बच्ची की हत्या की गई है। बच्ची का शव झाड़ियों में गिरा मिला। घटना की सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस आम पेड़ के मालिक की दोनों नाबालिक बच्चियों को थाना लाकर पूछताछ कर रही है।

मृतका की पहचान चक्रधरपुर प्रखंड के गुलकेडा पंचायत स्थित पकुवाबेड़ा गांव निवासी लखींद्र सुंडी की 6 साल की बेटी निर्मला सुंडी के रूप में की गई। वो आम तोड़ने के लिए ऊपर टोला गई थी। आम तोड़ने के दौरान उसी गांव की दो नाबालिग बच्चियों के साथ निर्मला सुंडी का विवाद हो गया। विवाद होने पर दोनों सगी बहनों ने निर्मला की गला दबाकर हत्या कर दी। इसके बाद दोनों निर्मला के पैर को पकड़ कर शव को छिपाने की नियत से झाड़ियों की ओर ले जा रही थी। इसी दौरान गांव के ही एक चार साल के बच्चे ने उन्हें देख लिया।

इसके बाद गांव में आकर बच्चे ने लोगों को इसकी जानकारी दी। इसके बाद ग्रामीण व मृतक निर्मला सुंडी के पिता लखींद्र सुंडी घटनास्थल पहुंचे। जहां देखा कि आम पेड़ के पास झाड़ियों में निर्मला सुंडी का शव गिरा हुआ है। इसके बाद ग्रामीणों ने चक्रधरपुर थाना में सूचना दी।

चक्रधरपुर के थाना प्रभारी प्रवीण कुमार ने कहा कि जांच करने पर पता चला है कि गांव का एक 4 साल का बच्चा है, जो आई विटनेस है। उसी बच्चे द्वारा बताया गया कि आम पेड़ के मालिक की दोनों नाबालिक बच्चियाें ने मृत निर्मला सुंडी को झाड़ियाें में छिपाने जा रही थी।

खबरें और भी हैं...