गोड्‌डा में लिपिक गिरफ्तार:बिहार के रहने वाले व्यक्ति से लेबर लाइसेंस बनाने के लिए मांगी 5000 की रिश्वत, ACB की छापेमारी में धराया

दुमका/ गोड्‌डा3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
गिरफ्तार लिपिक। - Dainik Bhaskar
गिरफ्तार लिपिक।

भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो दुमका की टीम ने बुधवार को गोड्‌डा में छापेमारी करते हुए श्रम अधीक्षक कार्यालय में पदस्थापित लिपिक सोनू मरांडी को गिरफ्तार किया है। लिपिक पर लेबर लाइसेंस निर्गत करने के बदले 5000 रुपये रिश्वत मांगने का आरोप है। बिहार के बांका जिले के रहने वाले राजीव कुमार रंजन की ओर से इस मामले में शिकायत दर्ज कराई गई। प्रारंभिक जांच में आरोप की पुष्टि होने के बाद टीम की ओर से कार्रवाई की गई।

शिकायतकर्ता राजीव रंजन अडानी पावर लिमिटेड में एरिया इंचार्ज के पद पर कार्यरत हैं। उन्होंने श्रम अधीक्षक कार्यालय गोड्‌डा में लेबर लाइसेंस के लिए आवेदन किया गया। सभी दस्तावेज जमा करने के बाद लाइसेंस निर्गत करने के बदले लिपिक की ओर से रिश्वत की मांग की गई। पैसे नहीं देने पर लाइसेंस की फाइल को लंबित रखा गया। टीम की जांच में आरोप सही पाए गए। गिरफ्तार लिपिक मूलरूप से दुमका का रहने वाला है।