पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Jharkhand
  • Jharkhand Assistant Policemen Strike In Ranchi Udates; Policeman Returns To Morabadi Maidan After, Senior SP Assurance

आंदोलन 'वर्दी-ए-इंसाफ':सीनियर एसपी के आश्वासन के बाद मोरहाबादी मैदान लौटे सहायक पुलिसकर्मी, सीएम आवास और राजभवन घेराव करने पहुंचे थे

रांची12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
सहायक पुलिसकर्मियों को रोकने के लिए लगाया गया बैरिकेडिंग।
  • शनिवार से ही नौकरी में परमानेंट करने की मांग को लेकर मोरहाबादी मैदान में डटें हैं सहायक पुलिसकर्मी
  • राज्य के 12 नक्सल प्रभावित जिलों के 2500 सहायक पुलिसकर्मी दो दिनों से आसमान के नीचे गुजार रहे दिन

नौकरी में परमानेंट करने की मांग को लेकर 12 नक्सल प्रभावित जिलों के 2500 सहायक पुलिसकर्मी सोमवार को राजभवन और सीएम आवास का घेराव करने पहुंचे। हालांकि इन्हें राजभवन और सीएम आवास के पहले ही बैरिकेडिंग कर जिला पुलिस बल के जवानों ने रोक दिया। उधर, मौके पर पहुंची रांची के सीनियर एसपी से आंदोलनकारी सहायक पुलिसकर्मियों के बीच बातचीत हुई। इस दौरान सीनियर एसपी ने उन्हें बातचीत का आश्वासन दिया जिसके बाद सहायक पुलिसकर्मी वापस मोरहाबादी मैदान लौट गए।

वापसी को तैयारी नहीं थी कुछ महिला सहायक पुलिसकर्मी
आश्वासन के बाद मोरहाबादी लौट रही कुछ सहायक महिला पुलिसकर्मी आक्रोशित हो गई। उन्होंने कहा कि हम दो दिनों से मोरहाबादी मैदान में रह रहे हैं, हमारे पास न रहने को छत है और न खाने को खाना। पानी भी खरीदकर पीना पड़ रहा है। लेकिन हमारी कोई सुनने वाला नहीं है। हालांकि बाद में साथी महिला पुलिसकर्मियों ने उन्हें समझाया जिसके बाद वे मोरहाबादी मैदान की ओर लौट गए।

राजभवन और सीएम आवास का घेराव करने के लिए जाते सहायक पुलिसकर्मी।
राजभवन और सीएम आवास का घेराव करने के लिए जाते सहायक पुलिसकर्मी।

शनिवार से मोरहाबादी मैदान में जमे हैं सहायक पुलिसकर्मी
बता दें कि अपनी मांगों को लेकर सहायक पुलिसकर्मी शनिवार सुबह आठ बजे से मोरहाबादी मैदान में जुटे हुए हैं। सोमवार को सभी सहायक पुलिसकर्मी लाइन बनाकर सीएम आवास और राजभवन का घेराव करने पहुंचे थे। इसकी सूचना पर जिला पुलिस बल ने राजभवन और सीएम आवास के पहले ही बैरिकेडिंग कर उन्हें रोक दिया। वापस लौट रहे कुछ सहायक पुलिसकर्मियों ने कहा कि उनपर दवाब बनाकर रोका जा रहा है।

रविवार को बाबूलाल मरांडी ने की थी सहायक पुलिसकर्मियों से मुलाकात
राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल मरांडी ने रविवार को सहायक पुलिसकर्मियों से मुलाकात की थी। सहायक पुलिस कर्मियों ने अपनी पीड़ा बाबूलाल मरांडी को बताई, जिसके बाद उन्होंने मांगों काे जायज ठहराते हुए आगामी विधान सभा के मानसून सत्र में यह मुद्दा उठाए जाने की बात कही। बाबूलाल मरांडी ने कहा कि नक्सलियों के गढ़ में पूरी ईमानदारी से कार्य करने वाले युवाओं की मांग पर ध्यान नहीं देना सरकार की निरंकुश मानसिकता को ही दर्शाती है।

सहायक पुलिसकर्मियों को रोकने के लिए खड़े जिला पुलिस के जवान।
सहायक पुलिसकर्मियों को रोकने के लिए खड़े जिला पुलिस के जवान।

उधर, रविवार को ही रांची के एसपी और 12 जिले के मेजर व सार्जेंट मेजर सहायक पुलिसकर्मियों को समझाने के लिए मोरहाबादी मैदान पहुंचे थे, लेकिन वार्ता विफल रही। रांची पुलिस को विश्वास था कि रविवार को सहायक पुलिसकर्मी समझाने-बुझाने के बाद धरना समाप्त कर वापस लौट जाएंगे। यही वजह है कि 12 जिले की पुलिस लाइन से बसें भी मोरहाबादी मंगा ली गई थीं।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- समय की गति आपके पक्ष में हैं। आपकी मेहनत और आत्मविश्वास की वजह से सफलता आपके नजदीक रहेगी। सामाजिक दायरा भी बढ़ेगा तथा आपका उदारवादी रुख आपके लिए सम्मान दायक रहेगा। कोई बड़ा निवेश भी करने के लिए...

और पढ़ें