भास्कर इंपैक्ट:दैनिक भास्कर की खबर के बाद 8 साल से पत्तों के घर में रह रहे बिरहोर के घर पहुंचा प्रशासन, DC ने सभी ‌BDO को अपने-अपने इलाके में जायजा लेने का दिया निर्देश

लातेहार9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
भास्कर ने गुरुवार को इस मुद्दे को प्रमुखता से उठाया था। इनकी परेशानियों की कहानी बताई गई थी। - Dainik Bhaskar
भास्कर ने गुरुवार को इस मुद्दे को प्रमुखता से उठाया था। इनकी परेशानियों की कहानी बताई गई थी।

दैनिक भास्कर की खबर का असर हुआ है। 8 साल से पत्तों के आशियाने में रह रहे बिरहोर परिवार की सुध लेने प्रशासन की टीम उनके घर तक पहुंची। परिवार को 50 किलो चावल, राशन कार्ड व वृद्धा पेंशन देने की भी स्वीकृति मिली है। इतना ही नहीं अधूरा आवास को पूरा करने का भी प्रशासन ने आश्वासन दिया है।

दैनिक भास्कर ने गुरुवार को, लातेहार में आदिम जनजाति का हाल:8 साल से बिरहोर परिवार लकड़ी और पत्तों से घर बना रहने को हैं मजबूर, कुछ भी नहीं मिली सरकारी सुविधा शीर्षक खबर से इस मुद्दे को उठाया था। इसमें बेदी बंगला टोला के एक बिरहोर परिवार की कहानी सामने बताई गई थी। इसमें बताया गया था कि कैसे ये परिवार पिछले 8 वर्षों से ये परिवार पत्तों के घर में रहने को मजबूर है।

खबर छपने के बाद लातेहार DC अबू इमरान ने संज्ञान लिया। उनके निर्देश पर सदर प्रखंड विकास पदाधिकारी मेघनाथ उरांव बिरहोर परिवार सुधन बिरहोर के घर पहुंच मामले कि जानकारी लिया। बीडीओ ने तत्काल परिवार को 50 किलो चावल मुहैया कराया गया। इतना ही नहीं सुधन बिरहोर की पत्नी सुनीता बिरहोर का पेंशन स्वीकृत कर दिया गया है। साथ ही राशन कार्ड भी बनवा दिया गया है।

BDO को निर्देश- इलाके में घूमिए और लाभुकों को चिन्हित कीजिए

सुधन बिरहोर उर्फ जानकी बिरहोर को 2020-21 में प्रधान मंत्री आवास मिला था। जो अपूर्ण है। उसे जल्द पूरा करने का आश्वासन दिया है। DC अबु इमरान ने जिले के सभी BDO को निर्देश दिया है कि अपने-अपने प्रखंड में भ्रमण कर सुयोग्य लाभुकों को चिन्हित कर सरकार की ओर से संचालित योजनाओं का लाभ देना सुनिश्चित करें।

DC ने DSO को शो-कॉज करने का दिया निर्देश
DC ने सदर एसडीओ सह जिला आपूर्ति पदाधिकारी शेखर कुमार को राशन कार्ड नहीं बनाने, राशन नहीं मिलने पर पंचायत सेवक, PDS दुकानदार,पंचायत स्वयंसेवक,पंचायत ब्लॉक कोऑर्डिनेटर व रोजगार सेवक को शो-कॉज़ करने का दिया निर्देश दिया है।