• Hindi News
  • Local
  • Jharkhand
  • Bihar's Deputy Chief Minister Renu Devi Reached Dhanbad, Said No One Would Like To Stop The Pace Of Development

'झारखंड में जनता सरकार को नकार रही':बिहार की उप मुख्यमंत्री रेणु देवी पहुंची धनबाद, कहा- कोई नहीं चाहेगा विकास की गति रुके

धनबाद9 महीने पहले
उप मुख्यमंत्री रेणु देवी।
  • जल्द ही प्रदेश में भूमि विवाद के मामले भी पूरी तरह से समाप्त तो नहीं लेकिन दस फीसदी से भी नीचे आ जाएंगे।

बिहार की उप मुख्यमंत्री रेणु देवी झारखंड के दौरे पर पहुंची। इस दौरान उन्होंने बिहार में लगातार बनते-बिगड़ते राजनीतिक समीकरणों पर सवालों का जवाब दिया। उन्होंने कहा कि कोई नहीं चाहेगा कि प्रदेश में विकास की गति रुके। वहीं भाजपा की ओर से राज्य में अपना CM बनाने की तैयारी के सवाल पर उन्होंने कहा कि ऐसा कुछ नहीं है। बिहार में NDA की सरकार चल रही है। सरकार बेहतर काम कर रही है।

सवर्णों की नाराजगी पर रेणु देवी ने कहा, 'ऐसा कुछ नहीं है, 15 साल पहले उनके साथ क्या हुआ, उन्हें अच्छी तरह से याद है।' इसके साथ ही बिहार में हाल में हुए बोचहां विधानसभा उपचुनाव के संबंध में पूछे गए सवालों का जवाब देते हुए उन्होंने कहा, 'किसी भी प्रदेश में होनेवाले उपचुनाव के नतीजे किसी भी तरह के रूझान नहीं दर्शाते। ना तो ये किसी दल विशेष के विरोध में होते हैं और ना ही प्रदेश की सरकार से आम आदमी का मोहभंग दर्शाते हैं। उपचुनावों में कुछ परिस्थितियां ऐसी हो जाती हैं जो सरकार में शामिल दल के प्रत्याशी के विरोध में भी जा सकती हैं या उसके पक्ष में भी हो सकती हैं। बोचहां विधान सभा उप चुनाव राजद के प्रत्याशी के पक्ष में सहानुभूति लहर का असर रहा।'

बोचहां में सहानुभूति के कारण हार हुई

उन्होंने भाजपा से जनता के मोहभंग के सवाल पर कहा कि भाजपा एक ऐसा दल है जो सबका साथ,सबका विकास के उद्देश्य के साथ चल रहा है। ऐसे में दल द्वारा किसी की उपेक्षा किए जाने की बात कहीं से भी उचित नहीं है। बोचहां में सहानुभूति लहर के कारण हमारे प्रत्याशी की हार हुई है। हार के बाद दो दिन पहले ही हमने इस पर मंथन किया था। इसमें प्रदेश अध्यक्ष ने भी शिरकत की थी। परिस्थितियों पर विचार कर हम आगे की रणनीति बनाने में जुट गए हैं।

प्रदेश में जल्द भूमि विवाद के मामले दस फीसदी से नीचे होंगे

बिहार में कानून-व्यवस्था को लेकर उठ रहे सवाल पर उन्होंने कहा कि कुछ घटनाएं सामने आई हैं। हमने अधिकारियों के साथ बैठकर पूरे मामले की समीक्षा की है। अधिकांश मामले जमीन विवाद से जुड़े हुए हैं। इसे दूर करने के लिए राज्य के भू-राजस्व विभाग में कई क्रांतिकारी बदलाव लाए गए हैं। जल्द ही प्रदेश में भूमि विवाद के मामले भी पूरी तरह से समाप्त तो नहीं लेकिन दस फीसदी से भी नीचे आ जाएंगे। इससे आपराधिक घटनाओं में कमी आएगी।

कलस्टर बना कर औद्योगिक इकाईयों को लगाया जा रहा

बिहार में विकास के दावे को लेकर उठ रहे सवाल पर उन्होंने कहा कि विपक्ष लगातार गलत बयानी कर रहा है। आज पूरे प्रदेश में कम से कम अठारह घंटे बिजली मिल रही है। सड़कों और पुल पुलिया का जाल बिछ रहा है। इसके अलावा स्वास्थ्य के क्षेत्र में भी काफी कुछ किया गया है। सरकारी अस्पतालों की स्थिति बहुत बेहतर हुई है। कलस्टर बना कर स्थानीय उत्पाद से चलने वाले औद्योगिक इकाईयों को लगाया जा रहा है। अभी पिछले सप्ताह ही इथेनॉल का सबसे बड़ा प्लांट पूर्णिया जैसे पिछड़े इलाके में लगाया गया है।

झारखंड में जनता सरकार को नकार रही

झारखंड के मौजूदा राजनीतिक स्थिति पर उन्होंने कहा कि झारखंड में जनता सरकार को नकार रही है। आने वाले दिन में प्रदेश में फिर भाजपा की सरकार होगी। वर्ष 1932 को खतियान को लेकर उप मुख्यमंत्री ने कहा कि पूरे भारत में कहीं भी किसी को काम करने का और रहने का हक है। देश का कोई भी नागरिक कहीं भी जा सकते हैं। रह सकते हैं। धारा हटा कर लोगों को बसाया जा रहा है। उन्होंने कहर कि भाजपा सरकार सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास के नारे को लेकर चल रही है।

ज्ञात हो कि बिहार की उप मुख्यमंत्री रेणु देवी एक निजी समारोह में शामिल होने बुधवार की सुबह झारखंड के धनबाद पहुंची। इस दौरान उनके साथ धनबाद के सांसद पीएन सिंह, भाजपा नेत्री रागिनी सिंह, महानगर अध्यक्ष चंद्रशेखर सिंह समेत कई वरिष्ठ भाजपा नेता मौजूद रहे।