ADJ उत्तम आनंद का हजारीबाग में अंतिम संस्कार:घर से लेकर ससुराल पटना तक गम का माहौल, एडीजे के पिता ने अपने पोते का हाथ पकड़कर दी मुखाग्नि; जज और वकील भी हुए शामिल

​​​​​​​हजारीबाग4 महीने पहले
दिवंगत ADJ के पुत्र का हाथ पकड़ मुखाग्नि देते पिता सदानंद प्रसाद।

धनबाद में अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायाधीश (ADJ) उत्तम आनंद का गुरुवार को हजारीबाग में अंतिम संस्कार किया गया। दिवंगत ADJ के पिता अधिवक्ता सदानंद प्रसाद ने अपने नाबालिग पोते का हाथ थामकर मुखाग्नि दी। शिवपुरी स्थित आवास से लेकर मुक्तिधाम तक माहौल गमगीन रहा। पारिवारिक सदस्यों के अलावा उन्हें जानने वाले और परिजनों को सांत्वना देने वालों की भी आंखें नम थीं। घर से लेकर मुक्तिधाम तक भीड़ लगी रही।

धनबाद में बुधवार को मॉर्निंग वॉक करने के दौरान ADJ उत्तम आनंद को एक ड्राइवर ने ऑटो से जान बूझकर धक्का मार दिया था। ऑटो की ठोकर से ADJ सड़क के किनारे गिर गए। वह खून से लथपथ करीब डेढ़ घंटे तक तड़पते रहे। उन्हें अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। उनकी पत्नी कीर्ति सिन्हा हजारीबाग बार एसोसिएशन की सदस्य हैं और न्यायिक अधिकारी की तैयारी कर रही हैं।

उत्तम आनंद मूल रूप से हजारीबाग के शिवपुरी कॉलोनी के निवासी हैं। वे वकालत करते थे। फिर मई 2002 बैच के ज्यूडिशियल सर्विस के लिए चुने गए। बोकारो में पहली तैनाती हुई। उसके बाद वह जमशेदपुर, गुमला, रांची, डालटेन गंज में न्यायिक दंडाधिकारी रहे। फिर प्रोन्नत होकर तेनुघाट में एडीजे-1 के रूप में पदस्थापित किए गए। तेनुघाट के बाद उनकी पोस्टिंग धनबाद हुई। उनके पिता सदानंद प्रसाद व भाई सुमन शंभु हजारीबाग में वकालत करते हैं। आनंद धनबाद की जज कॉलोनी में पत्नी कीर्ति सिन्हा, बेटी कौशिकी आनंद (16), काव्या आनंद (14) और बेटे कुणाल आनंद (11) के साथ रहते थे। उत्तम आनंद की ससुराल पटना में है।

झारखंड में जज की हत्या का आरोपी गिरफ्तार

ADJ के उत्तम आनंद के पार्थिव शरीर को कंधा देते परिजन।
ADJ के उत्तम आनंद के पार्थिव शरीर को कंधा देते परिजन।

अंतिम यात्रा में प्रधान जिला एवं सत्र न्यायाधीश हजारीबाग अरुण कुमार राय, रजिस्ट्रार प्रदीप कुमार शुक्ला, एडिशनल सेशन जज अमित शेखर, केके झा, बीके तिवारी, योगेश कुमार, दिनेश सिन्हा, बार एसोसिएशन के पूर्व अध्यक्ष मिथिलेश कुमार सिन्हा उर्फ मन्ने, सेक्रेटरी हीरालाल, अधिवक्ता में भैया संजय, सुशील कुमार सिन्हा, शैलेंद्र कुमार सिन्हा, कृष्णा सिंह, सुमित सिंह, राकेश सिंह, प्रणव झा, ओप्रकाश सिंह, रमेश सिंह, हजारीबाग के पूर्व सांसद भुवनेश्वर प्रसाद मेहता, झारखंड प्रदेश कांग्रेस कमेटी के कार्यकारी अध्यक्ष राजेश ठाकुर, राजीव गांधी पंचायती राज के प्रदेश अध्यक्ष जय शंकर पाठक, भाजपा नेता बटेश्वर प्रसाद मेहता, जिला कांग्रेस कमेटी के वरीय उपाध्यक्ष मिथिलेश दुबे के अलावा दिवंगत ADJ के तीनों IAS साले समेत पारिवारिक सदस्य, मित्र, शुभचिंतक और शहर के गणमान्य लोग शामिल हुए।

एक कार्यक्रम के दौरान पत्नी के साथ न्यायधीश उत्तम गौतम (बाएं से पहला और दूसरा)। फाइल फोटो।
एक कार्यक्रम के दौरान पत्नी के साथ न्यायधीश उत्तम गौतम (बाएं से पहला और दूसरा)। फाइल फोटो।

इस सदमे से उबरने के लिए सांत्वना देने वाले उनके घर पहुंचे सभी लोग इस घटना की CBI जांच की मांग कर रहे हैं। दुर्घटना का CCTV फुटेज देखने के बाद सभी कह रहे हैं कि यह साधारण घटना नहीं बल्कि सोची समझी साजिश के तहत की गई हत्या है। ADJ उत्तम आनंद के पिता वरिष्ठ अधिवक्ता सदानंद प्रसाद और छोटे भाई अधिवक्ता सुमन शंभू ने फिर दोहराया कि ADJ उत्तम आनंद की हत्या हुई है।

खबरें और भी हैं...