पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Jharkhand
  • Dumka (Jharkhand) By Election 2020: BJP Ramesh Kumar Rahi On JMM Dumka Candidate Basant Soren Over His Assets

दुमका उपचुनाव:भाजपा नेता का आरोप- बसंत सोरेन ने संपत्ति की घोषणा में छिपाई जानकारी, चुनाव आयोग से नामांकन रद्द करने की मांग

दुमका7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
पत्रकारों से बातचीत में रमेश ने कहा कि जल, जंगल, जमीन की रक्षा की बात करनेवाली झारखंड मुक्ति मोर्चा के मुखिया और उनके परिजनों ने भोले भाले आदिवासियों की भूमि नियम खिलाफ ली है।
  • भाजपा नेता के आरोप- सोरेन और उनके परिवार ने हड़पी आदिवासियों की जमीनें
  • आरोपों को गलत बताते हुए बसंत सोरेन ने कहा- भाजपा नकारात्मक राजनीति कर रही है

भाजपा नेता रमेश कुमार राही ने कहा है कि झामुमो के दुमका प्रत्याशी बसंत सोरेन ने उपचुनाव में दाखिल नामांकन पर्चे में संपत्ति की जो घोषणा की है, उसमें कई संपत्तियों को दर्शाया नहीं गया है। शनिवार को यहां पत्रकारों से बातचीत में रमेश ने यह आरोप लगाए।

उन्होंने कहा- जल, जंगल, जमीन की रक्षा की बात करनेवाली झारखंड मुक्ति मोर्चा के मुखिया और उनके परिजन ने भोले-भाले आदिवासियों की भूमि नियम खिलाफ ली है। उनके परिजन ने सीएनटी, एसपीटी की धाराओं का उल्लंघन कर करोड़ों की संपत्ति अर्जित की है।

भाजपा प्रत्याशी डॉक्टर लुइस मरांडी ने शनिवार को निर्वाचन पदाधिकारी को पत्र एवं उपायुक्त, मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी झारखंड और मुख्य चुनाव आयुक्त भारत को पत्र व ईमेल भेजकर मांग की है कि गलत शपथपत्र दायर करने के दोषी बसंत सोरेन का नामांकन रद्द किया जाए।

रमेश ने आरोप लगाते हुए कहा है कि बसंत सोरेन ने नामांकन प्रपत्र में दर्शाई गई भूमि से उनके नाम अधिक भूमि है, जिसे छिपाया गया। साथ ही दामकाड़ा बरवा की भूमि का खाता प्लॉट नंबर भी गलत अंकित किया गया। बसंत सोरेन, जिन्होंने चुनावी पर्चे में आवासीय पता बोकारो का लिखा है। छोटानागपुर काश्तकारी अधिनियम का उल्लंघन कर बरवाअड्डा धनबाद, रांची और दूसरे थाना क्षेत्र में भूमि खरीदी।

बसंत सोरेन ने भोले भाले आदिवासी रैयतों को सरकार द्वारा निर्धारित दर से कम मूल्य का भुगतान किया। झामुमो प्रत्याशी बसंत सोरेन ने 12 वर्ष से भूमि का लगान सरकारी खजाने में जमा करने का प्रमाण पत्र भी चुनावी पर्चे में संलग्न नहीं किया है।

भाजपा के आरोप
नामांकन प्रपत्र संख्या 26 में भूमि संबंधी ब्यौरा प्रस्तुत किया है। इसमें सही ब्यौरा को छिपाया गया है। भूमि का रकबा कम और प्लाॅट गलत दर्शाया गया है।

  • धनबाद जिला के (1) मौजा दामकाडा बरवा में खाता संख्या-10490/10196, प्लाट संख्या- 1626, रकवा- 12208 वर्गफीट क्रय की तारीख-30-7-2005, क्रय की राशि- 5,50,000 रुपए।
  • मौजा दामकाडा बरवा, खाता संख्या-10492/10198, प्लाट संख्या- 2762, रकवा- 3052 वर्गफीट, क्रय की तारीख-14-11-2005, क्रय की राशि- 150000 रुपए।
  • मौजा दामकाडा बरवा, खाता संख्या-10493/10199, प्लाट संख्या- 81/276, रकवा- 9156 वर्गफीट, क्रय की तारीख-14-11-2005, क्रय की राशि- 325000 रुपए।

भाजपा ने कहा कि सही ब्यौरा है कि बसंत सोरेन के नाम मौजा दामकाडा बरवा में पांच दलील संख्या- 10196, 10197, 10198, 10199 एवं 10200 द्वारा दिनांक 14-11-2005 को क्रमशः 7, 37, 37, 29, एवं 21 डिसमिल (कुल 131 डिसमिल) भूमि खरीदी गई है। जिसका खाता संख्या 33 एवं 81 तथा प्लाट संख्या (1)1630 (2) 1614, 1615, 1621, 1624, 1625, 1626 (3) 1622, 1623, 1624 (4) 1628,1629 (5) 1627 है। गोविंदपुर अंचल के ही काशीटांड में दुर्गा सोरेन, हेमंत सोरेन एवं बसंत सोरेन के नाम संयुक्त रूप से 1.51 एकड़ भूमि दलील संख्या 2686 दिनांक 30 अप्रैल 2006 को 2 लाख 75 हजार रुपए में खरीदी। सरकारी दर के मुताबिक उक्त भूमि का 15 लाख 10 हजार रुपया होता है। बसंत सोरेन के हिस्से तीसरा हिस्सा 50.33 डिसमिल भूमि होती है। नामांकन पर्चा में उक्त भूमि को दर्शाया नही गया।

भाजपा नकारात्मक राजनीति कर जनता को भ्रमित करना चाह रही : बसंत
दुमका विधानसभा क्षेत्र के झामुमो प्रत्याशी बसंत सोरेन ने भाजपा नेता द्वारा नामांकन पर्चा में जानकारी छुपाने के आरोप को निराधार और बेबुनियाद बताया है। भास्कर के साथ बातचीत में उन्होंने कहा कि विपक्ष नकारात्मक राजनीति कर रहा है और जनता को भ्रमित कर अपना हित साधना चाह रहा है। लेकिन जनता अब भाजपा के झूठे झांसे में नहीं आने वाली है। बसंत सोरेन ने कहा कि वे जानकारी क्यों छिपायेगे। जो सही तथ्य है उसे मैंने पर्चा में दाखिल किया है जो मेरे पास है ही नहीं, उसे मैं अपना कैसे बताऊं।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आप अपने विश्वास तथा कार्य क्षमता द्वारा स्थितियों को और अधिक बेहतर बनाने का प्रयास करेंगे। और सफलता भी हासिल होगी। किसी प्रकार का प्रॉपर्टी संबंधी अगर कोई मामला रुका हुआ है तो आज उस पर अपना ध...

और पढ़ें