पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

अपराध:सजा पूरी कर चुका विदेशी नागरिक जेपी कारा के डिटेंशन सेंटर से फरार, म्यांमार का है निवासी

हजारीबाग13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
फरार हुआ विदेशी नागरिक म्यांमार अंतर्गत भूसीडोंग थाना क्षेत्र के मंगरीटांग का निवासी है जिसकी पहचान 25 साल के मोहम्मद अब्दुल्ला के रूप में की गई है। -फाइल फोटो।
  • खिड़की के रॉड को ब्लेड से काट कर हुआ फरार, खोज में जुटी पुलिस

लोकनायक जयप्रकाश नारायण केंद्रीय कारा परिसर के बाहर सजा पूरी कर चुके विदेशी नागरिक को रखने के लिए बनाये गये डिटेंशन सेंटर से रविवार सुबह एक विदेशी नागरिक फरार हो गया। केंद्र सरकार के निर्देश पर राज्य सरकार के आदेशानुसार जेपी कारा के गेस्ट हाउस को डिटेंशन सेंटर बनाया गया है। उसने भागने के लिए डिटेंशन सेंटर के टॉयलेट के खिड़की के रॉड को काटकर घटना को अंजाम दिया। फरार हुआ विदेशी नागरिक म्यांमार अंतर्गत भूसीडोंग थाना क्षेत्र के मंगरीटांग का निवासी है जिसकी पहचान 25 साल के मोहम्मद अब्दुल्ला के रूप में की गई है।

बताया गया कि सजा पूरी होने के बाद चार विदेशी नागरिकों को जेपी कारा में बनाए गए डिटेंशन सेंटर में रखा गया था। इस डिटेंशन सेंटर में म्यांमार के तीन लोग और एक बांग्लादेशी रह रहे हैं। सभी घुसपैठ के आरोप में सजा पूरी कर चुके हैं। इन्हें अपने देश जाने के लिए जो विभागीय प्रक्रिया पूरी करनी है, उसे पूरा करने में कारा प्रशासन लगी हुई थी। इसी बीच इनमें से एक नागरिक आज फरार हो गया। उनके ड्यूटी पर तीन पुलिसकर्मी लगे थे। जबकि पहले शिफ्ट में दो पुलिसकर्मी को तैनात किया गया था। वह किसके शिफ्ट में फरार हुआ यह किसी के जानकारी नहीं है। इसलिए कारा अधीक्षक कुमार चंद्रशेखर ने दोनों शिफ्ट में तैनात सभी पांच पुलिसकर्मी को शो कॉज किया है। इनमें दो पुलिसकर्मी जेल के सिपाही हैं, जबकि तीन लोग भूतपूर्व सैनिक हैं।

खिड़की का कटा हुआ रॉड।
खिड़की का कटा हुआ रॉड।

डिटेंशन सेंटर के सुरक्षा में तैनात सुरक्षाकर्मियों की ड्यूटी रात 3:00 बजे से सुबह 6:00 बजे तक और सुबह 6:00 बजे से दोपहर 12:00 बजे तक 2 शिफ्ट में थी। पहले शिफ्ट में दो लोग और दूसरे शिफ्ट में तीन पुलिसकर्मी तैनात थे। इन्हें यह जानकारी नहीं है कि वह कब भागा। प्रशासन को सुबह उस वक्त जानकारी मिली जब पता चला कि खिड़की का रॉड कटा हुआ है। फिर सेंटर में रह रहे लोगों की गिनती की गई तो उसमें से एक गायब था। उसने भागने के लिए हैक्सॉ ब्लेड का उपयोग किया है। बताया गया कि डिटेंशन सेंटर के आसपास ही बिजली का काम चल रहा है जिसके सामान आसपास में रखे हुए रहते हैं उसी हैक्सॉ ब्लेड का उपयोग उसने किया है।

कौन है विदेशी नागरिक अब्दुल्ला
फरार होने वाला विदेशी नागरिक अब्दुल्ला म्यांमार का रहने वाला है। वह अनपढ़ और अविवाहित है। पहचान के लिए उसके बाएं आंख के पास और बाएं चेस्ट पर मस्सा है। उसे साहिबगंज बरहरवा रेलवे पुलिस ने 10 नवंबर 2016 को गिरफ्तार किया था। बगैर वीजा, पासपोर्ट के भारत में प्रवेश के आरोप में उसके खिलाफ रेलवे पुलिस ने संबंधित धाराओं के तहत मामला दर्ज किया था। जब तक मामला रेलवे जीएम साहिबगंज सिविल कोर्ट में चल रहा था तब तक उसे साहेबगंज जेल में रखा गया।

सजा होने के बाद उसे 2018 में दुमका सेंट्रल जेल भेजा गया था। दुमका में उसने दो साल की सजा पूरी की। 23 फरवरी 2020 को इसका सजा पूरी हो गया है। सजा पूरी होने के बाद केंद्र सरकार के आदेश पर इसे डिटेंशन सेंटर में रखा जाना था। इसलिए दुमका से 26 फरवरी को हजारीबाग जेपी कारा में बनाए गए डिटेंशन सेंटर में लाया गया। जहां घुसपैठ की सजा पूरी कर चुके अन्य तीन विदेशी नागरिकों के साथ अब्दुल्ला को रखा गया था।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- समय की गति आपके पक्ष में हैं। आपकी मेहनत और आत्मविश्वास की वजह से सफलता आपके नजदीक रहेगी। सामाजिक दायरा भी बढ़ेगा तथा आपका उदारवादी रुख आपके लिए सम्मान दायक रहेगा। कोई बड़ा निवेश भी करने के लिए...

और पढ़ें