गिरिडीह में प्रशासन और ग्रामीणों में झड़प:बंधक बनाए ड्राइवर को छुड़ाने पहुंची पुलिस-प्रशासन पर ग्रामीणों का निकला गुस्सा, सीओ से हाथापाई; 6 लोग गिरफ्तार

बेंगाबाद (गिरिडीह)9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
घटना केू बाद करणपुरा मोड़ पुलिस छावनी में तब्दील हो गई। - Dainik Bhaskar
घटना केू बाद करणपुरा मोड़ पुलिस छावनी में तब्दील हो गई।

एनएच 114A मेन रोड स्थित करणपुरा में रविवार को पुलिस और ग्रामीणों के बीच हिंसक झड़प हो गई। दुकान में टक्कर मारने की वजह से ग्रामीणों ने कार ड्राइवर को बंधक बना लिया था। उसे छुड़ाने पहुंची पुलिस और प्रशासन के टीम के साथ ग्रामीणों ने हाथापाई की। सीओ कृष्ण कुमार मरांडी के साथ भी धक्का-मुक्की की गई। इसके बाद पुलिस ने कार्रवाई करते हुए 6 लोगों को गिरफ्तार कर लिया। जबकि 50 लोगों से अधिक अज्ञात के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। पुलिस ने मौके से दो दर्जन बाइक को जब्त किया है।

कैसे भड़का मामला
बेंगाबाद थाना के भोजदाहा कर्णपुरा मोड़ पर सुबह करीब आठ बजे गिरिडीह से देवघर जा रही एक अर्टिगा कार अनियंत्रित होकर मोटर पार्ट्स की दुकान में घुस गई। इसमें दो ग्रामीण घायल हो गए। इस घटना के बाद ग्रामीणों की भीड़ जमा हो गई और ड्राइवर की जमकर पिटाई कर दी और उसे बंधक बना सड़क जाम कर दिया। घटना की जानकारी मिलते ही थाना प्रभारी कमलेश पासवान और सीओ कृष्ण कुमार मरांडी घटनास्थल पर पहुंचे। आक्रोशित ग्रमीणों को समझाते हुए जाम हटाने को कहा। लेकिन ग्रामीण मुआवजे की मांग पर अड़े रहे और फिर देखते ही देखते उग्र होकर सीओ के साथ हाथापाई पर उतर आए।

कार अनियंत्रित होकर एक दुकान में घुस गई और इसके बाद ग्रामीणों का आक्रोश बढ़ा।
कार अनियंत्रित होकर एक दुकान में घुस गई और इसके बाद ग्रामीणों का आक्रोश बढ़ा।

एसडीएम और एसडीपीओ ने मुक्त कराया सीओ
वहीं, इस घटना की जानकारी मिलने के बाद एसडीएम विशाल खलखो और एसडीपीओ अनिल सिंह अतिरिक्त पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे और सीओ को ग्रामीणों से मुक्त करवाया। इसके बाद करणपुरा मोड़ पुलिस छावनी में तब्दील हो गई। वहीं, एसडीएम विशाल खलखो और एसडीपीओ अनिल सिंह के निर्देशानुसार मोड़ में सभी खड़ी बाइक को जब्त कर लिया गया। जबकि हिंसक झड़प में शामिल छह युवकों को खदेड़ कर पुलिस ने गिरफ्तार कर बेंगाबाद थाना ले आई। इधर, इस मामले में एसडीपीओ अनिल सिंह ने कहा है कि असामाजिक तत्वों ने ऐसी घटना को अंजाम देने का प्रयास किया। मामला पूरी तरह से नियंत्रण में हैं। मामले की जांच की जा रही है। दोषी पाए जाने वालों पर सख्त से सख्त कार्रवाई होगी।

खबरें और भी हैं...