झारखंड में गुस्से में गजराज:लातेहार के एक घर में सुबह-सुबह जंगली हाथियों ने बोला धावा, एक ही परिवार के चार लोगों को सूंड़ में में उठा कर पटका, 4 लोगों की स्थिति गंभीर

लातेहार (बालूमाथ)5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
इतना ही नहीं हाथियों के झुंड घर को ध्वस्त कर पहले घर का अनाज को भी बर्बाद कर दिया। ग्रामीणों ने तत्काल घटना की सूचना लातेहार DFO को दिया। इसके बाद बालूमाथ वन विभाग ने सभी घायलों को एंबुलेंस से इलाज के लिए रिम्स भेजने का प्रबंध कराया। - Dainik Bhaskar
इतना ही नहीं हाथियों के झुंड घर को ध्वस्त कर पहले घर का अनाज को भी बर्बाद कर दिया। ग्रामीणों ने तत्काल घटना की सूचना लातेहार DFO को दिया। इसके बाद बालूमाथ वन विभाग ने सभी घायलों को एंबुलेंस से इलाज के लिए रिम्स भेजने का प्रबंध कराया।

झारखंड में जंगली हाथियों का उत्पात जारी है। शुक्रवार सुबह-सुबह लातेहार के बालूमाथ थाना क्षेत्र इंदुवा गांव में हाथियों के झुंड ने धावा बोल दिया। इससे एक ही परिवार के 4 लोग गंभीर रूप से घायल हो गए हैं। प्राथमिक उपचार के बाद बेहतर इलाज के लिए चारों को RIMS, रांची रेफर किया गया है।

घटना लगभग सुबह 3 बजे की है। एक दर्जन जंगली हाथियों के झुंड ने सूरजदेव गंझू के घर पर हमला कर दिया। पहले उसके घर को ध्वस्त किया। इसके बाद घर में सो रहे परिवार के सदस्यों को अपने सूड से उठाकर पटकना शुरू किया। घर में सो रहे 12 लोग में से 8 लोग भाग गए, लेकिन चार उसकी चपेट में आ गए हैं।

पूरा परिवार हाथियों के हमले से है घायल

हाथियों के हमले में चार लोग हीरामणि देवी 25 वर्ष, पति सूर्य देव गंझू और उसका पुत्र रामसहाय गंझु 4 वर्ष, राहुल कुमार 1 वर्ष और सूरजदेव गंजू की भतीजी पीयूष कुमारी गंभीर रूप से घायल हो गए।

घर में रखे इलाज को किया बर्बाद

इतना ही नहीं हाथियों के झुंड घर को ध्वस्त कर पहले घर का अनाज को भी बर्बाद कर दिया। ग्रामीणों ने तत्काल घटना की सूचना लातेहार DFO को दिया। इसके बाद बालूमाथ वन विभाग ने सभी घायलों को एंबुलेंस से इलाज के लिए रिम्स भेजने का प्रबंध कराया।