पूर्वी सिंहभूम में सड़क हादसे में पति-पत्नी की मौत:परिवार के साथ जमशेदपुर जा रहे CSRL अधिकारी की कार बहरागोड़ा में ट्रक से टकराई

जमशेदपुर6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कार व ट्रक के बीच टक्कर। - Dainik Bhaskar
कार व ट्रक के बीच टक्कर।

झारखंड के पूर्वी सिंहभूम जिले में रविवार को हुए एक दर्दनाक सड़क हादसे में हंसता-खेलता परिवार बर्बाद हो गया। दुर्घटना में पति-पत्नी की मौत हो गई। बच्चे को हल्की चोट आई है। घटना बहरागोड़ा के माटिहाना गुरुद्वारा के पास नेशनल हाइवे 49 पर हुई। इसमें कोलकाता से जमशेदपुर की ओर आ रही कार विपरीत दिशा से आ रहे ट्रक से टकरा गई।

हादसे में क्षतिग्रस्त वाहन
हादसे में क्षतिग्रस्त वाहन

हादसा इतना भयानक था कि ट्रक ने कार को 200 मीटर तक घसीट दिया। घटना के बाद ट्रक के चालक व खलासी मौके से फरार हो गए। हादसे में CSRL इंडिया कंपनी लिमिटेड के अधिकारी अर्णव कोनार की मौके पर ही मौत हो गई। वहीं गंभीर रूप से घायल पत्नी पारस्वाति घोष इलाज के लिए अस्पतात भेजा गया। इस दौरान उन्होंने दम तोड़ दिया। बेटा अंजिष्णु कोनार को हल्की चोट लगी है।

क्षतिग्रस्त वाहन से शव को बाहर निकालने की कोशिश करते लोग।
क्षतिग्रस्त वाहन से शव को बाहर निकालने की कोशिश करते लोग।

घटना की सूचना स्थानीय लोगों ने तत्काल बहरागोड़ा पुलिस को दी। पुलिस की टीम ने मौके पर पहुंचकर भारी मशक्कत के बाद CSRL कंपनी के अधिकारी के शव को कार से बाहर निकाला। वहीं घायल महिला व बच्चे को इलाज के लिए जमशेदपुर भेज दिया। जानकारी के अनुसार CSRL के अधिकारी कंपनी की कार से जमशेदपुर के सोनारी स्थित अपने रिश्तेदार के पारिवारिक समारोह में हिस्सा लेने जा रहे थे।

घटना के बाद मौके पर जुटी भीड़
घटना के बाद मौके पर जुटी भीड़

इसी दौरान सुबह करीब साढ़े सात बजे यह घटना हो गई। अर्णव खुद कार चला रहे थे। बताया जा रहा है कि कार में सवार पारस्वाति घोष जलपाईगुड़ी कॉलेज में प्रोफेसर थी। घटना के बाद परिजनों की भीड़ अस्पताल में एकत्र हो गई। सबका रो-रो कर बुरा हाल था। दुर्घटना में बचे मासूम बच्चे के भविष्य को लेकर लोगों की चिंता साफ देखी जा रही थी।

हादसे में बचा मासूम
हादसे में बचा मासूम

ट्रक की गलती से हुआ हादसा
स्थानीय लोगों की माने तो यह हादसा ट्रक चालक की गलती से हुआ। ओड़िशा से कोलकाता की ओर जा रहा ट्रक गलत दिशा में चल रहा था। इस रास्ते कोलकाता जाने वाले वाहन अक्सर यह गलती करते हैं। इस कारण हादसे की आशंका बनी रहती है।

खबरें और भी हैं...