• Hindi News
  • Local
  • Jharkhand
  • Jharkhand Big Maoist News Latehar Police Arrested 7 Militants Including Jharkhand Kranti Morcha Supremo

लातेहार पुलिस को मिली बड़ी कामयाबी:झारखंड क्रांति मोर्चा के सुप्रीमो सहित 7 उग्रवादी गिरफ्तार, ईंट भट्‌ठा मालिक और ठेकेदारों से वसूलते थे रंगदारी

लातेहारएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पत्रकारवार्ता में जानकारी देते पुलिस अधिकारी। - Dainik Bhaskar
पत्रकारवार्ता में जानकारी देते पुलिस अधिकारी।

झारखंड के लातेहार जिले की पुलिस को बड़ी सफलता मिली है। पुलिस ने जिले में ईंट भट्ठा मालिकों और ठेकेदारों ने रंगदारी वसूलने वाले उग्रवादी संगठन झारखंड क्रांति मोर्चा का सफाया कर दिया है। SP अंजनी अंजन को मिली गुप्त सूचना के आधार पर सदर थाना क्षेत्र के पतकी जंगल से संगठन के सुप्रीमो समेत 7 उग्रवादियों को गिरफ्तार किया है। SP ने मंगलवार को अपने कार्यालय सभागार में प्रेसवार्ता कर बताया कि शंकर राम उर्फ सौरभ के द्वारा झारखंड क्रांति मोर्चा नामक संगठन बनाकर लातेहार जिले में पिछले एक महीने से ठेकेदारों, व्यापारियों एवं ईंट भट्टा मालिकों को जान से मारने की धमकी दी जा रही थी। रंगदारी की मांग की जा रही थी। पुलिस इस पर नजर बनाए हुए थी। आखिरकार यह पूरा संगठन एक साथ पुलिस के हत्थे चढ़ गया।

पुलिस ने बताया कि सूचना मिली कि 13 दिसंबर को झारखंड क्रांति मोर्चा के कुछ उग्रवादी लातेहार में अप्रिय घटना को अंजाम देने के लिए ने वाले हैं। इस सूचना पर त्वरित कार्रवाई करते हुए छापेमारी टीम का गठन किया गया। टीम ने पतकी जंगल के पास से मोटरसाइकिल सवार पर एक महिला सहित दो वर्दीधारी उग्रवादियों को लोडेड कट्टा, जिंदा गोली नक्सली पर्चा, मोबाइल फोन के साथ पकड़ा। उनकी पहचान शंकर राम उर्फ सौरभ एवं जरीना खातून उर्फ हसीना खातून उर्फ हसीना के रूप में की गई। पकड़े गए उग्रवादियों की निशानदेही पर मनिका थाना क्षेत्र के ग्राम कोपे से इस संगठन के अन्य पांच उग्रवादी उपेंद्र राम उर्फ ओम प्रकाश, विकास कुमार उर्फ मोनू कुमार, प्रदीप पाल, अमित कुमार एवं समीर लकड़ा को भी लोडेड कट्टा व जिंदा गोली के साथ गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया।

JJMP में काम कर चुका था सरगना
झारखंड क्रांति मोर्चा के सुप्रीमो शंकर राम उर्फ सौरव पूर्व में माओवादी संगठन JJMP में काम करता था। वह पहले भी जेल जा चुका है। जेल से निकलने के बाद संगठन बनाकर डरा धमकाकर लेवी वसूलने के काम में लग गया था। SP ने बताया कि विकास कुमार उर्फ मोनू हुसैनाबाद से आर्म्स एक्ट के मामले में पहले भी जेल जा चुका है। वहीं गिरफ्तार उपेंद्र राम उर्फ ओम प्रकाश ओम प्रकाश पूर्व में TPC उग्रवादी संघटन में सक्रिय सदस्य रह चुका है। इस मामले में लातेहार थाना में आर्म्स एक्ट के तहत मामला दर्ज किया गया है। प्रेसवार्ता में अभियान एएसपी विपुल पांडेय, एसडीपीओ संतोष कुमार मिश्र, पुलिस निरीक्षक सह सदर थाना प्रभारी अमित कुमार गुप्ता, मनिका थाना प्रभारी प्रदीप राय समेत कई पुलिस जवान मौजूद थे।

ये हथियार हुए बरामद
चार पीस लोडेड देशी कट्टा, आठ पीस 315 की जिंदा गोली, आठ पीस झारखंड क्रांति मोर्चा का हस्तलिखित पर्चा, 28 पीस झारखंड क्रांति मोर्चा का पर्चा, 9 पीस मोबाइल फोन, पांच पीस पिट्ठू बैग, एक पीस मोटरसाइकिल, 3 पीस चितकबरा पेंट, तीन पीस चितकबरा शर्ट, दो पीस डायरी, दैनिक उपयोग के ढेर सारे सामान बरामद किए गए हैं।

छापामारी अभियान में यह लोग थे शामिल
पुलिस निरीक्षक सह सदर थाना प्रभारी अमित कुमार गुप्ता, लातेहार पुलिस निरीक्षक बबलू कुमार, पुअनि अजय कुमार दास, पुअनि धर्मेंद्र सिंह सरदार, मनिका थाना प्रभारी प्रदीप राय, सअनि धर्मेश प्रसाद लिंबू, सअनि राकेश निर्मल बेग समेत पुलिस जवान शामिल थे।