पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Jharkhand
  • Hemant Soren | Jharkhand Chief Minister Hemant Soren To Dhanbad DC Over International Footballer Condition

झारखंड:पत्तल बनाकर घर चला रही इंटरनेशनल फुटबॉलर, कहा- घर की समस्याओं के चलते प्रैक्टिस भी छूट रही

रांची2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
साथी खिलाड़ियों के साथ लाल घेरे में संगीता सोरेन। संगीता टीम के साथ 2018 में भूटान दौरे पर फुटबॉल खेलने गई थी।
  • हेमंत सोरेन को ट्वीट कर दी गई मामले जानकारी, सीएम ने धनबाद उपायुक्त को खिलाड़ी की मदद का दिया निर्देश
  • मुख्यमंत्री ने कहा- खिलाड़ियों को बढ़ावा देने के लिए जल्द ही सरकार नीति और कार्यप्रणाली के साथ जनता के समक्ष आएगी

जिले के बाघमारा की रहने वाली इंटरनेशनल फुटबॉलर संगीता सोरेन इन दिनों पत्तल बेचकर परिवार चलाने को मजबूर है। महिला खिलाड़ी का कहना है कि घर की समस्याओं के चलते उनकी प्रैक्टिस भी छूट रही है। बता दें संगीता भूटान, थाइलैंड समेत देश के कई जिलों में विभिन्न टूर्नामेंट में फुटबॉल खेल चुकी है।

इस संबंध में जानकारी मिलने के बाद मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने धनबाद के उपायुक्त को संगीता सोरेन और उनके परिवार को जरूरी सरकारी मदद से लाभान्वित करने का निर्देश दिया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि खेल और खिलाड़ियों को बढ़ावा देने के लिए सरकार कृतसंकल्पित है। जल्द ही खिलाड़ियों को बढ़ावा देने के लिए सरकार नीति और कार्यप्रणाली के साथ जनता के समक्ष आने वाली है।

पत्तल बनाकर कर रही है, जीवन यापन
मुख्यमंत्री को जानकारी दी गई कि धनबाद के बाघमारा निवासी अंतरराष्ट्रीय फुटबॉलर संगीता सोरेन पत्तल बनाकर अपने परिवार का भरण पोषण को मजबूर है। संगीता ने 2018 में भूटान सहित एशिया के कई देशों में देश का नाम रोशन किया। लेकिन आज संगीता की सुध लेने वाला कोई नहीं।

पत्तल बनाकर कर रही है जीवन यापन
मुख्यमंत्री को जानकारी दी गई कि धनबाद के बाघमारा निवासी अंतरराष्ट्रीय फुटबॉलर संगीता सोरेन पत्तल बनाकर अपने परिवार का भरण पोषण को मजबूर है। संगीता ने 2018 में भूटान सहित एशिया के कई देशों में देश का नाम रोशन किया। लेकिन आज संगीता की सुध लेने वाला कोई नहीं।

संगीता ने बताया कि घर चलाने के लिए वो जंगल जाती है और फिर वहां से पत्तों को लाकर पत्तल बनाकर बाजार में बेचती है जिससे उनका घर चलता है। उन्होंने बताया कि 2018 में भूटान में खेलने के लिए झारखंड से सिर्फ दो लड़कियों का चयन हुआ था जिसमें वे भी शामिल थी। उन्होंने बताया कि वे 2018-19 में भूटान और थाइलैंड में फुटबॉल खेल चुकी हैं। इसके अलावा वे गोवा, ओडिशा, अरुणाचल प्रदेश में भी खेल चुकी हैं।

मां के साथ खेत में काम करती संगीता सोरेन।
मां के साथ खेत में काम करती संगीता सोरेन।

इंटर की स्टूडेंट हैं संगीता
संगीता सोरेन ने बताया कि वे इंटर की स्टूडेंट हैं और धनबाद एसएसएलएनटी कॉलेज की छात्रा हैं। उन्होंने बताया कि वे छह भाई बहनों में पांचवे नंबर की हैं। उनके घर में मम्मी-पापा के अलावा भइया-भाभी, एक बड़ी बहन और एक छोटा भाई रहता है। दो बड़ी बहनों की शादी हो चुकी है। संगीता ने बताया कि पिता अब काम नहीं करते जबकि मां गांव में दूसरों के जानवर चराती है। वहीं भइया मजदूरी करता है जिससे घर चलता है। कभी-कभी हालात खराब हो जाते हैं तो जंगल से पत्तियां लाकर पत्तल बनाती है जिससे कुछ पैसे आते हैं।

कहा- किसी जनप्रतिनिधि ने नहीं की मदद
संगीता ने बताया कि गांव या फिर शहर के किसी जनप्रतिनिधि ने उनकी कभी कोई मदद नहीं की है। फिलहाल वे चाहती हैं कि सरकार या फिर प्रशासन की ओर से उन्हें इतनी मदद मिल जाए कि खाना-पीना हो सके। संगीता ने बताया कि घर की परेशानियों के कारण उनका प्रैक्टिस भी प्रभावित हो रहा है। लेकिन फिर भी वे टाइम निकालकर प्रैक्टिस करती हैं।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- समय की गति आपके पक्ष में हैं। आपकी मेहनत और आत्मविश्वास की वजह से सफलता आपके नजदीक रहेगी। सामाजिक दायरा भी बढ़ेगा तथा आपका उदारवादी रुख आपके लिए सम्मान दायक रहेगा। कोई बड़ा निवेश भी करने के लिए...

और पढ़ें