पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

पुलिस स्मृति दिवस:शहीद पुलिसकर्मियों को याद किया गया; डीजीपी ने श्रद्धांजलि देते हुए कहा- जिन पुलिस जवानों ने बलिदान दिया है, उनसे प्रेरणा पाने का समय

रांचीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
डीजीपी एमवी राव ने कहा कि पुलिस संस्मरण दिवस के मौके पर हम उन शहीद पुलिस पदाधिकारियों एवं जवानों को याद कर रहे हैं जिन्होंने समाज में शांति एवं विधि-व्यवस्था बनाए रखने के लिए उग्रवादियों व अपराधियों से लोहा लेते हुए अपना बलिदान दिया है।
  • राज्य के 8 पुलिसकर्मियों को याद किया गया, डीजीपी एमवी राव ने श्रद्धांजलि दी
  • झारखंड के जैप वन वाहिनी परिसर में शहीद जवानों के लिए श्रद्धांजलि कार्यक्रम

झारखंड के डीजीपी एमवी राव ने शहीद पुलिसकर्मियों को श्रद्धांजलि देते हुए कहा कि जिन पुलिसकर्मियों ने अपनी सेवा के दौरान बलिदान दिया है, आज उनसे प्रेरणा लेने का दिन है। उन्होंने कहा कि 31 अक्टूबर का दिन एकता दिवस के रूप में मनाया जाएगा। शहीद द्वारा दिए गए बलिदान को कभी बेकार नहीं जाने दिया जाएगा।

झारखंड समेत पूरे देश में हर साल 21 अक्टूबर को पुलिस संस्मरण दिवस मनाया जाता है। रांची स्थित जैप वन वाहिनी परिसर में बुधवार को पुलिस संस्मरण दिवस मनाया गया। इस दौरान पिछले एक साल में शहीद हुए आठ पुलिसकर्मियों को श्रद्धांजलि अर्पित की गई।

पिछले एक साल में जो पुलिसकर्मी शहीद हुए हैं, उनमें एएसआई सुकरा उरांव व चंद्राय सोरेन, सिपाही खंजन कुमार महतो, अखिलेश राम और लखिंद्र मुंडा, होमगार्ड जवान जमुना प्रसाद, सकिंद्र सिंह और शंभू प्रसाद साहू शामिल हैं।

शहीद पुलिस पदाधिकारियों और जवानों को याद करते हुए डीजीपी एमवी राव ने कहा कि पुलिस संस्मरण दिवस के मौके पर हम उन शहीद पुलिस पदाधिकारियों एवं जवानों को याद कर रहे हैं जिन्होंने समाज में शांति एवं विधि-व्यवस्था बनाए रखने के लिए उग्रवादियों और अपराधियों से लोहा लेते हुए अपना बलिदान दिया है। समाज में शांति-सौहार्द बनाए रखने के लिए पुलिस के ऊपर सबसे बड़ा दायित्व है।

शहीद के परिजन को सम्मानित करते एसएसपी सुरेंद्र कुमार झा।
शहीद के परिजन को सम्मानित करते एसएसपी सुरेंद्र कुमार झा।

उधर, पुलिस स्मृति दिवस पर पुलिस लाइन में भी पुलिस स्मारक पर शहीद पुलिसकर्मियों को श्रद्धांजलि दी गई। एसएसपी सुरेंद्र कुमार झा समेत कई पुलिस अधिकारियों ने श्रद्धांजलि दी। इसके बाद एसएसपी ने यहां पहुंचे शहीद के परिवारों को सम्मानित किया।

इसलिए हर साल 21 अक्टूबर को मनाया जाता है पुलिस स्मृति दिवस
21 अक्टूबर 1959 में लद्दाख में तीसरी बटालियन की एक कंपनी को भारत-तिब्बत सीमा की सुरक्षा के लिए लद्दाख में ‘हाट-स्प्रिंग‘ में तैनात किया गया था। कंपनी को टुकडिय़ों में बांटकर चौकसी करने को कहा गया। जब बल के 21 जवानों का गश्ती दल ‘हाट-स्प्रिंग’ में गश्त कर रहा था। तभी चीनी फौज के एक बहुत बड़े दस्ते ने इस गश्ती टुकड़ी पर घात लगाकर आक्रमण कर दिया। तब बल के मात्र 21 जवानों ने चीनी आक्रमणकारियों का डटकर मुकाबला किया।

मातृभूमि की रक्षा के लिए लड़ते हुए 10 शूरवीर जवानों ने अपने प्राणों का बलिदान दिया। बीते 61 साल से केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के इन बहादुर जवानों के बलिदान को देश के सभी केंद्रीय पुलिस संगठनों व सभी राज्यों की सिविल पुलिस द्वारा ‘पुलिस स्मृति दिवस’ के रूप में मनाया जाता है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- घर-परिवार से संबंधित कार्यों में व्यस्तता बनी रहेगी। तथा आप अपने बुद्धि चातुर्य द्वारा महत्वपूर्ण कार्यों को संपन्न करने में सक्षम भी रहेंगे। आध्यात्मिक तथा ज्ञानवर्धक साहित्य को पढ़ने में भी ...

और पढ़ें