रामगढ़ में हाई वोल्टेज ड्रामा:अपने ही पूर्व विधायक के विरोध में उतरा समर्थन, घर के बाहर कफन लेकर बैठा, कहा कराएंगे मुंडन, तोड़ेंगे रिश्ता

रामगढ़एक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पूर्व विधायक के आवासके बाहर धरने पर बैठा समर्थक। - Dainik Bhaskar
पूर्व विधायक के आवासके बाहर धरने पर बैठा समर्थक।

झारखंड के रामगढ़ जिले के राजनीतिक गलियारे में बुधवार को हाई वोल्टेज ड्रामा शुरू हो गया। अपने ही पूर्व विधायक के आंदोलन के विरोध में उनका बेहद करीबी समर्थक कपन लेकर धरने पर बैठ गया। समर्थक ने अपने आंदोलन के लिए स्थल के रूप में पूर्व विधायक के आवास के मुख्य गेट का चयन कर लिया। आंदोलन के विरोध में आंदोलन का यह नजारा देखने के लिए सैकड़ों लोगों की भीड़ एकत्र हो गई।

दरअसल रामगढ़ के पूर्व विधायक शंकर चौधरी ने बुधवार को छावनी परिषद के विरोध में एक दिवसीय धरने की घोषणा की थी। इस घोषणा के विरोध में सबसे पहले उसका समर्थन सामने आ गया। अस्थायी तौर पर छावनी फुटबॉल मैदान में सब्जी दुकान लगाने वाले सभी दुकानदारों को फिर से डेली मार्केट में स्थानांतरित करने की मांग को लेकर पूर्व विधायक ने छावनी परिषद के समक्ष धरने की घोषणा कर रखी थी। पूर्व विधायक के इसी आंदोलन से उनका समर्थक अशोक साहू सहमत नहीं था। लिहाजा वह बुधवार की सुबह पूर्व विधायक के घर के बाहर कफन बिछाकर धरने पर बैठ गया। समर्थक के आवास के बाहर धरने पर बैठने की सूचना पहले ही पूर्व विधायक को मिल गई थी। लिहाजा वह सुबह पांच बजे अपने आवास से निकल गए। इसके बावजूद अशोक साहू पूर्व विधायक के आवास के बाहर कफन लेकर धरने पर बैठ गया है।

समर्थक को समझाने का प्रयास करते लोग।
समर्थक को समझाने का प्रयास करते लोग।

समर्थक ने किया कुछ ऐसा दावा
समर्थक ने दावा किया है कि पूर्व विधायक मुट्ठी भर लोगों के इशारे पर आंदोलन कर रहे हैं। इस आंदोलन से मजदूर-किसानों का भला होने वाला नहीं है। केवल वह बड़े थोक विक्रेताओं को फायदा पहुंचाने के लिए आंदोलन कर रहे हैं। कहा कि भले ही पूर्व विधायक मेरे धरने में बैठने से पहले ही अपने घर से बाहर निकल गए हैं। इसके बावजूद वह आज उनके आवास पर कफन बिछाकर धरने पर बैठे हैं। अभी अपना मुंडन संस्कार करवाएंगे। उसके बाद दामोदर नदी घाट पर जाकर विधिवत स्नान कर उनसे पिछले 32 वर्षों का संबंध तोड़ लेंगे। धरने पर बैठे अशोक को समझाने के लिए बड़ी संख्या में लोग पहुंचे लेकिन वह नहीं माने।

खबरें और भी हैं...