गुमला में सनसनीखेज वारदात:डायन-बिसाही के संदेह में युवक की आंख फोड़ी, मुखिया सहित 10 लोगों पर FIR

गुमला9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
थाने में शिकायत करने पहुंचा पी - Dainik Bhaskar
थाने में शिकायत करने पहुंचा पी

झारखंड के गुमला जिले में सनसनीखेज मामला सामने आया है। सिसई थाना क्षेत्र के लकेया गांव में डायन-बिसाही के आरोप में 1 युवक की आंख फोड़ दी गई है। इस मामले में मुखिया सहित 10 लोगों के खिलाफ थाने में नामजद प्राथमिकी दर्ज की गई है। पुलिस 7 लोगों को हिरासत मे लेकर पूछताछ कर रही है। आरोप है कि गांव के ही करीब 12 लोगों ने समूह बनाकर लेकेया निवासी संजय उरांव और उनके भाई अजय उरांव पर जानलेवा हमला किया। दोनों भाईयों को खंभे से बांध कर पीटा। अजय उरांव की आंख फोड़ दी। दोनों भाईयों को जान से मारने की कोशिश की। घटना की जानकारी मिलने के बाद पीड़ित की बहन थाने पहुंची। पुलिस को मामले की जानकारी दी। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर दोनों भाईयों को मुक्त कराया। थाना प्रभारी रवि होंगहंगा ने कहा कि मामला दर्ज कर कार्रवाई की जा रही है।

इन्हें किया गया नामजद
पीड़ित पक्ष की ओर से दर्ज शिकायत में कहा गया कि हमले के दौरान हमलावरों ने उन्हें डायन का बेटा कहकर संबोधित किया। इस मामले में लकेया गांव निवासी व लकेया पंचायत के मुखिया सुगिया देवी,प्रवीण उरांव, जगतपाल उरांव, विश्वनाथ उरांव, रोहित उरांव, अमित उरांव, विजय उरांव, बोलवा उरांव,मोती उरांव, और रंथु गोप को आरोपी बनाया गया। पुलिस ने रविवार को मामला पंजीकृत किया है। घटना शनिवार की बताई जा रही है।

पुलिस पर मामले में लापरवाही बरतने का आरोप
संजय उरांव ने बताया कि पूर्व में भी डायन बिसाही का आरोप लगाकर परिवार के लोगों के साथ मारपीट की गई। गत 27 जुलाई 2021 को सिसई थाना में लिखित सूचना देने के बाद भी कोई कार्रवाई नहीं हुई। गत 7 सितंबर 2021 को पुलिस अधीक्षक कार्यालय को मामले की जानकारी दी गई। इसके बावजूद पुलिस ने एक्शन नहीं लिया।

मुखिया ने आरोप को किया खारिज
इस संबंध मे मुखिया सुगिया देवी ने कहा कि मेरे ऊपर लगाए गए आरोप बेबुनियाद हैं। मारपीट की घटना की जानकारी मिलने पर अपने पति मोती उरांव के साथ घटना स्थल गई। बीच बचाव कर मामला शांत कराई । पुलिस को सूचना देकर मौके पर बुलाया। दावा किया कि करीब 10 वर्षों से संजय उरांव के परिवार से पैतृक जमीन का विवाद चल रहा है। उन लोगों के द्वारा हमेशा बदनाम करने व फंसाने की साजिश की जाती है।