पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Jharkhand
  • Jharkhand: Instructions Issued To All DCs In View Of Health Department, Dussehra, Trying To Stop Second Wave Of Corona In The State

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

रांची:राज्य में कोरोना की दूसरी लहर रोकने में जुटा स्वास्थ्य विभाग, दशहरा को देखते हुए सभी डीसी को जारी किया गया निर्देश

रांचीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सभी डीसी को खुद कोरोना संक्रमण रोकथाम अभियान की मॉनिटिरिंग करने को भी कहा गया है। ()प्रतीकात्मक फोटो
  • कोरोना रोकथाम के लिए किए जा रहे उपायों की खुद मॉनिटरिंग करें डीसी

राज्य में कोरोना की रफ्तार कम हुई है। लेकिन दुर्गा पूजा और आने वाले फेस्टिव सीजन के दौरान कोरोना की दूसरी लहर आने की आशंका है। इसे देखते हुए स्वास्थ्य विभाग ने राज्य के सभी डीसी को पत्र लिखकर पूर्व में जारी गाइडलाइन के अलावा और भी एहतियाती कदम उठाने का निर्देश दिया है। एनएचएम के अभियान निदेशक रविशंकर शुक्ला की ओर से जारी लेटर में कहा गया है कि स्वास्थ्य मंत्रालय, भारत सरकार की ओर से जारी एसओपी (स्टैंडर्ड ऑपरेटिव प्रोसिजर) के साथ-साथ कई अन्य उपाय किए जाने आवश्यक है।

सभी डीसी को अपने-अपने जिलों में खाद्य पदार्थों की जांच सुनिश्चित करने तथा खाद्य सुरक्षा कानून का उल्लंघन करने वाले के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने को कहा गया है। साथ ही पूजा स्थलों पर पर्याप्त मात्रा में टेस्टिंग बढ़ाने, पंडाल के अंदर सीमित मात्रा में लोगों को जाने की अनुमति तथा लोगों में जागरूकता के लिए अभियान चलाने का भी निर्देश दिया गया है। सभी डीसी को खुद कोरोना संक्रमण रोकथाम अभियान की मॉनिटिरिंग करने को भी कहा गया है।

इन नियमों का करना होगा पालन
एसओपी में कहा गया है कि जहां तक ​​संभव हो रिकॉर्ड किए गए भक्ति संगीत या गाने बजाए जाएं और गायन समूहों को अनुमति नहीं दी जानी चाहिए। सोशल डिस्टेंसिंग को ध्यान में रखते हुए कार्यक्रम स्थलों में सभी स्थानों पर उचित चिह्न होना चाहिए। साथ ही केवल उन कर्मचारियों और आगंतुकों को ही आने की अनुमति दी जाए, जिनमें संक्रमण के लक्षण नहीं हैं।

एसओपी के अनुसार सभी आगंतुकों को प्रवेश की अनुमति तभी दी जाएगी जब वे मास्क का उपयोग कर रहे हों। हर समय न्यूनतम छह फुट की दूरी का पालन करने को भी कहा गया है। कई दिनों या हफ्तों तक चलने वाले कार्यक्रमों में हमेशा एक जैसी भीड़ नहीं होती है। आमतौर पर दिन के कुछ घंटों में ही भीड़ ज्यादा होती है।

एसओपी के अनुसार कार्यक्रम की योजना इस प्रकार से बनाई जानी चाहिए। ताकि भीड़ को नियंत्रित रखा जा सके और सुरक्षित सामाजिक दूरी का पालन हो सके। रैलियों और विसर्जन जुलूसों में लोगों की संख्या निर्धारित सीमा से अधिक नहीं होनी चाहिए और सामाजिक दूरी तथा मास्क पहनना सुनिश्चित किया जाना चाहिए।

इसके अलावा थर्मल स्क्रीनिंग पर भी जोर दिया गया है। सामाजिक दूरी, मास्क जैसे प्रावधानों पर नजर रखने के लिए क्लोज-सर्किट कैमरे आदि पर विचार किया जा सकता है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- यह समय विवेक और चतुराई से काम लेने का है। आपके पिछले कुछ समय से रुके हुए व अटके हुए काम पूरे होंगे। संतान के करियर और शिक्षा से संबंधित किसी समस्या का भी समाधान निकलेगा। अगर कोई वाहन खरीदने क...

और पढ़ें