पारिवारिक कलह की भेंट चढ़ीं दो जिंदगियां:कोडरमा में 5 दिनों से लापता महिला और बच्ची का शव कुएं में मिला, पिता ने ससुराल वालों पर लगाया दहेज प्रताड़ना का आरोप

कोडरमा6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
गांव के कुएं में शव मिलने की सूचना के बाद पुलिस की टीम मौके पर पहुंची। - Dainik Bhaskar
गांव के कुएं में शव मिलने की सूचना के बाद पुलिस की टीम मौके पर पहुंची।

झारखंड के कोडरमा में दिल को झकझोरने वाली घटना सामने आई है। मरकच्चो थाना क्षेत्र के महुगाई पंचायत अंतर्गत सोनेडीह डेबबा गांव की रहने वाली 25 वर्षीय महिला रिंकू देवी और उसकी बच्ची का शव कुएं से बरामद किया गया है। महिला पिछले पांच दिनों से अपनी दो वर्षीय बेटी के साथ लापता थी। इस मामले में लड़की के पिता छोटू राणा ने थाने में शिकायत दर्ज कराई थी। इसमें बेटी के ससुराल वालों पर दहेज के लिए प्रताड़ित करने का आरोप लगाया था।

अपनी बेटी के साथ तस्वीर में रिंकू देवी
अपनी बेटी के साथ तस्वीर में रिंकू देवी

दावा किया था कि उनकी बेटी और बच्ची को ससुराल वालों ने गायब कर दिया है। वहीं महिला के पति की तरफ से भी थाने में शिकायत दर्ज कराई गई थी। सोमवार की शाम पुलिस को गांव के कुएं में महिला व बच्ची का शव मिलने की सूचना मिली। इसके बाद पुलिस की टीम मौके पर पहुंचे। दोनों लाश को कुएं से बाहर निकाल कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। दो मासूम जिंदगियां पारिवारिक कलह की भेंट चढ़ गईं। रिंकू देवी व रंजीत राणा की शादी वर्ष 2016 में हुई थी।

कुएं में मां-बेटी का शव दिखने के बाद मौके पर भीड़ जुट गई।
कुएं में मां-बेटी का शव दिखने के बाद मौके पर भीड़ जुट गई।

महिला गत 18 नवंबर से अपनी बेटी के साथ लापता थी। गत 19 नवंबर को ससुराल व मायके वालों ने अलग-अलग मामला दर्ज कराया। महिला के पति रंजीत राणा ने मरकच्चो थाना मे सनहा दर्ज कराया। आवेदन में बताया कि 18 नवंबर की शाम छः बजे उसकी पत्नी अपनी बेटी को साथ लेकर शौच के लिए निकली। 24 घंटे गुजर जाने के बाद भी वह घर वापस नहीं लौटी। काफी खोलने के बावजूद उसका कोई पता नहीं चल पाया । लड़की के पिता नवलशाही थाना क्षेत्र के मसमोहना निवासी छोटू राणा ने पुलिस को दिए अपने आवेदन में पति रंजीत राणा, ससुर सुरेंद्र राणा, सास सरस्वती देवी, देवर भवानी राणा व शिवा राणा को आरोपी बनाया ।

रिंकू देवी की फाइल फोटो
रिंकू देवी की फाइल फोटो

आवेदन में बताया कि उनकी पुत्री की शादी के बाद उसके ससुराल वाले दहेज के लिए प्रताड़ित करते थे । उसके पति द्वारा एक लाख रुपये व मोटरसाइकिल की मांग की जा रही थी। उसकी पुत्री द्वारा इसका विरोध करने पर उसके साथ मारपीट की जाती थी। मामले को लेकर प्रबुद्ध ग्रामीणों के साथ पंचायत भी की गई। इसके बावजूद इन लोगों मे कोई सुधार नहीं आया । 18 नवंबर की शाम सात बजे विवाहिता के पति रंजीत राणा ने फोन कर उन्हें सूचना दी के आपकी पुत्री व उसकी बच्ची घर से गायब हैं और काफी खोजबीन के बाद भी कोई पता नहीं चल रहा है। आवेदन में विवाहिता के पिता ने बताया था कि उन्हें संदेह है कि उनकी पुत्री व उसकी बेटी को ससुराल वालों ने जान से मारकर शव को कहीं गायब कर दिया है। दोनों आवेदन के आलोक में पुलिस नें पड़ताल शुरू की। इसमें दोनों का शव बरामद हुआ है।

खबरें और भी हैं...