वाहन चोरी पर लगाम:पलामू में पुलिस के हत्थे चढ़ा गिरोह, कपड़े पहनने के स्टाइल से फंसे अपराधी, सीसीटीवी में कैद हुई थी वारदात

पलामू7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पुलिस के हत्थे चढ़े अपराधी - Dainik Bhaskar
पुलिस के हत्थे चढ़े अपराधी

झारखंड के पलामू जिले के मेदिनीनगर में एक वाहन चोर गिरोह को पकड़ने में पुलिस को सफलता मिली है। शहर थाना पुलिस की ओर से इस मामले में तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस की माने तो अपने कपड़े पहनने के स्टाइल से अपराधी उसकी के जाल में फंस गए। बाइक चोरी की पूरी वारदात सीसीटीवी में कैद हुई थी। पुलिस इसके आधार पर ही जांच कर रही थी।

बताया जाता है कि शहर के भीड़भाड़ वाले बाज़ार इलाके से बुधवार को बाइक की चोरी की गई थी। महिंद्रा आर्किड के बगल में स्थित कोलकाता बाज़ार में खरीदारी करने आए एक व्यक्ति की मोटरसाइकिल दुकान के सामने से गायब कर दी गई थी। चोरों ने बाइक को ठिकाने लगाने के लिए इसका नंबर प्लेट बदल दिया था। इसके बावजूद पुलिस 48 घंटे में अपराधियों तक पहुंच गई।

पूरी घटना दुकान में लगे कैमरे में रिकॉर्ड हो गई थी। इसमें तीन युवक बाइक को चोरी कर ले जाते हुए दिखाई दे रहे थे। कैमरे के फुटेज में उनका चेहरा स्पष्ट नहीं दिख रहा था। इस कारण पुलिस को थोड़ा समय लगा। टीओपी एक प्रभारी रेवाशंकर राणा ने बताया कि चोरी की गई बाइक पाटन अंचल के राजस्व कर्मचारी ज्योत्सना कुजूर की थी। मामला दर्ज होने के साथ ही पुलिस बाइक के बरामदगी में लग गई। सीसीटीवी से चोरों की पहचान नहीं हो पा रही थी। उनके कपड़े पहनने के तरीके पर पुलिस टीम ने खास ध्यान दिया।

शुक्रवार की रात छह मुहान के पास उसी तरह के कपड़ा पहने हुए रेड़मा निवासी कमल शर्मा को पकड़ा गया। पूछताछ में उसने बाइक चोरी में अपनी संलिप्तता स्वीकार कर ली। वारदात में शामिल रहे अपने दो साथियों के बारे में भी जानकारी दी। इसके बाद शनिवार को घटना में शामिल सेमरटांड़ निवासी मुन्ना कुमार और रजवाडीह निवासी विकास कुमार को पकड़ा गया। मोटरसाइकिल सेमरटांड़ से बरामद हुई।यह सभी अपराधी चोरी व ड्रग्स बेचने के मामले में चार बार जेल जा चुके हैं।

खबरें और भी हैं...