अपराधी सुकरा उरांव गुमला में गिरफ्तार:रांची, गुमला, लोहरदगा के थानों में 10 मर्डर समेत 35 से ज्यादा मामलों में है आरोपी

गुमला4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
SP ने प्रेस कांफ्रेंस कर मामले की जानकारी दी। - Dainik Bhaskar
SP ने प्रेस कांफ्रेंस कर मामले की जानकारी दी।

रांची, गुमला व लोहरदगा का कुख्यात अपराधी सुकरा उरांव को गिरफ्तार कर लिया गया है। गुलमाल पुलिस उसे उसके साथी प्रफुल कुमार के साथ गिरफ्तार की है। पुलिस ने दोनों के पास से दो देसी कट्टा व चार गोली बरामद की है। पूछताछ के बाद दोनों को जेल भेज दिया गया है। पिछले कुछ दिनों से वह लगातार लोगों को धमकी देकर लेवी वसूलने की कोशिश कर रहा था। सुकरा उरांव के विरुद्ध गुमला व लोहरदगा जिले के विभिन्न थाना में करीब 35 कांड दर्ज है। इन कांडों में दस से अधिक मामले हत्या के है।साथ ही उसके ऊपर 17 सीएलए व आर्म्स एक्ट के मामले दर्ज है।जबकि प्रफुल कुमार के ऊपर सदर थाना में हत्या का एक मामला दर्ज है।

ऐश-ओ-आराम की जिंदगी जीने के लिए करता था वसूली
चकाचौंध व ऐश-ओ- आराम जिंदगी जीने की लालसा में वह नौकरी पेश व रिटायर आर्मी से लेवी की मांग कर रहा था।हाल के दिनों में उसने प्रफुल के साथ मिलकर सिलाफारी गांव के एक रिटायर आर्मी से PLFI के नाम पर पांच लाख लेवी की मांग की थी।इसी लेवी की मांग के बाद अब वह पकड़ा गयाा।

प्रेमिका की खातिर किया था पहला मर्डर
गिरफ्तार प्रफुल कुमार सदर थाना छेत्र के सिलाफ़ारी गांव का रहने वाला है। 2018 में वह अपनी ही प्रेमिका के साथ प्रेम प्रसंग के मामले को लेकर गांव के ही राजकुमार साहू की हत्या कर डाला था। 14 महीने जेल में रहने के बाद वर्ष 2020 में वह जेल से बाहर निकला था।साथ ही हाल के दिनों में पुनः आपराधिक घटनाओं में संलिप्त हो गया था।

प्लानिंग कर हुई गिरफ्तारी
पुलिस ने पूरी प्लानिंग के साथ उसकी गिरफ्तारी की है। इसके लिए SP की तरफ से एक विशेष टीम बनाई गई थी। 12 जनवरी की रात करीब 10 बजे रंगदारी मांगने वाला दो अपराधी सिलाफ़री गांव पहुँचा।इससे पहले छापामारी दल वहां पहुंच गई थी। टीम को देखते ही दोनों भागने लगे। तभी जवानों ने दोनो को खदेड़ कर पकड़ी।