झारखंड में महिला को जलते पुआल में फेंका:चेहरा और सीने का हिस्सा जला; गंभीर हालत में इलाज जारी; टोनही बताने वाले 6 गिरफ्तार

सिमडेगा4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मामले में महिला झरियो देवी के द्वारा 6 लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई है। - Dainik Bhaskar
मामले में महिला झरियो देवी के द्वारा 6 लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई है।

झारखंड के सिमडेगा में गुरुवार को एक महिला को जिंदा जलाया। इससे महिला का चेहरे और सीने का हिस्सा झुलस गया। गंभीर हालत में उसका इलाज जारी है। सदर अस्पताल सिमडेगा में प्राथमिक इलाज के बाद महिला को बेहतर इलाज के लिए RIMS रेफर किया गया है। वहीं इस मामले में 6 लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है।

मामला सिमडेगा जिले के ठेठईटांगर थाना क्षेत्र के कुड़पानी डिपाटोली गांव का है। डायन-बिसाही का आरोप लगाकर पहले 55 वर्षीय झरिया देवी नामक महिला को ग्रामीणों ने पीटा। इसके बाद पुआल के ढेर में आग लगाकर महिला को उसमें जलाकर मारने की कोशिश की। हालांकि इस दौरान वहां मौजूद उनके परिजनों ने उसे बचा लिया।

सदर अस्पताल सिमडेगा में प्राथमिक उचार के बाद झरिया देवी को RIMS रेफर कर दिया गया है।
सदर अस्पताल सिमडेगा में प्राथमिक उचार के बाद झरिया देवी को RIMS रेफर कर दिया गया है।

10 दिन पहले हो गई थी आरोपी की पत्नी की मौत
दरअसल 10 दिन पहले फ्लोरेंस नामक युवक की पत्नी की मौत हो गई थी। उसी के दशकर्म कार्यक्रम आई करमु बड़ाईक की पत्नी झरिया देवी पर कुछ लोग डायन का आरोप लगाते हुए झगड़ा करने लगे। बात बढ़ी और लोग मारपीट पर उतारू हो गए और पिटाई के बाद उन्हें जलाने पर उतारु हो गए। पिछले कई महीनों से गांव के कुछ लोग झरियो देवी पर डायन बिसाही का शक करके झगड़ा करते रहते थे। किसी के बीमार पड़ने या मृत्यु पर झरियो को निशाना साधते हुए उसके डायन होने का आरोप लगाया जाता था।

इनकी हुई है गिरफ्तारी
मामले में महिला झरियो देवी के द्वारा 6 लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई है। पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए फ्लोरेंस डुंगडुंग, सिलब्रिउस डुंगडुंग, रवि सोरेंग, अमृत टेटे, ज्योति टेटे, हेमंत टेटे शामिल हैं। सभी को पुलिस ने जेल भेज दिया है।