पलामू में राजस्व कर्मचारी घूस लेते रंगे हाथ धराया:खानदानी जमीन के कागजात को ऑनलाइन करने के लिए मांग रहा था 4 हजार रुपए, कहा था- पैसे का इंतजाम करो नहीं तो काम नहीं होगा

पलामू4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
गिरफ्तार अंचल उपनिरीक्षक गौरव(25) बिहार के नालंदा ज़िले के ओकनावां गाँव का रहने वाला है। वर्तमान में मेदिनीनगर के बारलोटा में रहता है। - Dainik Bhaskar
गिरफ्तार अंचल उपनिरीक्षक गौरव(25) बिहार के नालंदा ज़िले के ओकनावां गाँव का रहने वाला है। वर्तमान में मेदिनीनगर के बारलोटा में रहता है।

पलामू ACB ने बुधवार को सबतरवा अंचल अंतर्गत बकोरिया पंचायत के अंचल उपनिरीक्षक गौरव कुमार को घुस लेते रंगे हाथ गिरफ्तार किया। गिरफ्तार गौरव बकोरिया के रहने वाले कैलाश उरांव के पुत्र महेंद्र उरांव(31) से जमीन का खाता और प्लाट ऑनलाइन करने के नाम पर घुस मांगा था।

शिकायतकर्ता महेंद्र का खानदानी जमीन सतबरवा के बकोरिया गांव में है। उन्होंने अपने 141 डिसमिल जमीन को ऑनलाइन कराने के लिए सतबरवा अंचलाधिकारी के नाम पर कार्यालय में आवेदन दिया था। जब काफी दिनों तक काम नहीं हुआ तो बकोरिया पंचायत के अंचल उपनिरीक्षक गौरव कुमार से मिले। गौरव ने कहा कि चार हज़ार रुपए देने के बाद जमीन ऑनलाइन होगा।

ACB ने जांच के बाद बनाई गिरफ्तारी की रणनीति
महेंद्र ने पैसा देने में असमर्थता जताई तो कहा गया कि पैसे का इंतेज़ाम कर आवें नहीं तो काम नहीं होगा। घुस मांगे जाने की शिकायत महेंद्र ने ACB से की। ACB ने मामले का सत्यापन किया तो जांच में मामला सही पाया। इसके बाद अंचल उपनिरीक्षक को गिरफ्तार करने की रणनीति बनाई गई।

भरे चौक से किया गिरफ्तार
शिकायकर्ता महेंद्र ने गौरव को रेड़मा चौक पर घुस का रकम दिया तो वहां पहले से मौजूद एसीबी की टीम ने धर दबोचा।गिरफ्तार अंचल उपनिरीक्षक गौरव(25) बिहार के नालंदा ज़िले के ओकनावां गाँव का रहने वाला है। वर्तमान में मेदिनीनगर के बारलोटा में रहता है।

खबरें और भी हैं...