प्यार में पति बन रहा था रोड़ा:गुमला में महिला ने चचेरे देवर के साथ मिलकर की हत्या, बेटी ने खोले मां के राज

गुमलाएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
पुलिस के हत्थे चढ़े आरोपी। - Dainik Bhaskar
पुलिस के हत्थे चढ़े आरोपी।

गुमला में सनसनीखेज मामला सामने आया है। एक महिला ने अपने चचेरे देवर के साथ मिलकर पति की हत्या कर दी है। पति दोनों के बीच प्यार में रोड़ा बन रहा था। मां और चाचा के बीच अवैध संबंध की पूरी कहानी बेटी ने पुलिस के सामने बयांन कर दी। पुलिस ने आरोपी महिला और कथित प्रेमी को गिरफ्तार कर लिया है। मामला डुमरी थाना क्षेत्र के जुरमू पंचायत अंतर्गत दीना सरईटोली गांव का है। घटना को गुरुवार देर रात अंजाम दिया गया था। शनिवार को पुलिस ने मामले का खुलासा कर दिया। पति 45 वर्षीय राखु मुंडा की हत्या के आरोप में पत्नी श्रीमती मुंडाइन व चचेरा भाई जट्टू मुंडा को हिरासत में लिया गया है। दोनों ने अपना अपराध स्वीकार कर लिया है।

मृतक का शव कादोझरिया जंगल में दो पत्थरों के बीच से बरामद किया गया है। बेटी धनमुनी कुमारी ने शव की पहचान अपने पिता के रूप में की है। घटना के बावत बेटी ने पुलिस को बताया कि उसकी मां श्रीमती मुंडाइन का लगभग 3 वर्षों से उसके चचेरे चाचा 40 वर्षीय जट्टू मुंडा के साथ अवैध संबंध था। पिता के गैर हाजिरी में जट्टू मुंडा का अक्सर घर आना जाना लगा रहता था। पेशे से किसान पिता जब भी एक दो दिनों के लिए कहीं बाहर चले जाते थे, तब भी चाचा घर पर आकर रहता था। इस बात का जब वह विरोध करती थी, तब चाचा द्वारा उसे प्रलोभन देकर इसकी चर्चा किसी से नही करने के लिए कहा जाता था। देवर और भाभी के बीच रिश्ते का खुलासा करने पर बेटी को अंजाम भुगतने की धमकी दी जाती थी। इस कारण पहले लड़की चुप रही।

बेटी ने खोले राज
बेटी ने बताया कि हाल के दिनों में चाचा का घर आना जाना काफी बढ़ गया था। पिता को इसकी भनक लग गई थी। पिता ने मां को काफी समझाया बुझाया था। वह कुछ भी सुनने को तैयार नहीं थी।जिसके कारण दोनो के बीच विवाद हो गया था। मां ने इस विवाद की जानकारी चाचा को दे दी थी। इसके बाद पिता ने चाचा के घर आने पर रोक लगा दी। पिता अक्सर घर पर रहकर मां की निगरानी में जुट गए थे। मंगलवार को मां जयरागी बाजार जाने की बात कहकर घर से बाहर निकली थी। इस दौरान वह जायरागी बाजार में चाचा से मिली थी। इसके बाद दोनों ने बाजार में ही मिलकर पिता की हत्या करने की योजना बनाई।

कुछ ऐसे दिया घटना को अंजाम
तय योजना के तहत गुरुवार को महिला अपने पिता को लकड़ी काटने के बहाने अपने साथ जंगल की ओर ले गई।जहां पहले से ही उसका कथित प्रेमी मौजूद था। इसके बाद दोनो ने मिलकर उसकी हत्या कर दी। हत्या का साक्ष्य छिपाने की नीयत से दोनों शव को घसीटकर कादो झरिया जंगल ले गए। फिर दो पत्थरों के बीच शव को डाल कर पेड़ के पत्ते व झाड़ियों से ढक दिया। इसके बाद महिला देर रात को घर अकेले लौट आई। बेटी ने मां से पिता के बारे में पूछा तो वह टालमटोल जवाब देने लगी। कभी कहती कि वह रिश्तेदारी में गए हैं। कभी थोड़ी देर बाद लौटने की बात करती। बेटी पूरी पिता के घर आने का इंतजार करती रही।

शुक्रवार को भी जब पिता नही लौटे तब उसने कड़ाई से मां से इस बारे में पूछताछ की। पुलिस को मामले की जानकारी देने की चेतावनी दी। इसके बाद मां ने बेटी के सामने हत्या की बात स्वीकार की। बेटी ने इसके बाद पुलिस को घटना की जानकारी दी। पुलिस ने आरोपी महिला को हिरासत में लेकर पूछताछ की। इसमें मामला खुलकर सामने आ गया। महिला के साथ घटनास्थल पर पहुंचकर शव बरामद कर लिया गया। आरोपी प्रेमी को भी पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया गया।