पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

पलामू में पहली बार पतंग उत्सव:150 बच्चों ने कराया रजिस्ट्रेशन, महाराष्ट्र से आए पतंगबाजों ने सिखाई पतंगबाजी की कला

पलामू3 दिन पहले
चेम्बर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्रीज द्वारा आयोजित पतंग उत्सव को लेकर बच्चों में उत्साह का माहौल दिखा।
  • पेशे से कम्प्यूटर इंजीनियर निसर्ग की हाॅबी है पतंगबाजी

इस वर्ष मकर संक्रांति पलामू के लिए यादगार रहा। पहली बार 14 जनवरी को पतंग उत्सव का आयोजन किया गया। इसमें महाराष्ट्र से आए पतंगबाज यहां के लोगों को पतंगबाजी की कला सिखाई। साथ बड़े-बड़े पतंग भी उड़ाए। चेम्बर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्रीज द्वारा आयोजित पतंग उत्सव को लेकर बच्चों में उत्साह का माहौल रहा। 150 बच्चों ने इस उत्सव में हिस्सा लेने के लिए रजिस्ट्रेशन कराया था।

उत्सव के एक दिन पूर्व बुधवार को टाउन हॉल में छोटे बच्चों के लिए प्रशिक्षण सह पतंग वितरण कार्यक्रम आयोजित हुआ। इसका उद्घाटन मेयर अरुणा शंकर व उपमहापौर मंगल सिंह ने किया। इधर, पतंग उत्सव में महाराष्ट्र से निसर्ग शाह अपनी पांच लोगों की टीम के साथ पतंगबाजी सिखाने आए हैं।

पेशे से कम्प्यूटर इंजीनियर निसर्ग की हाॅबी है पतंगबाजी। इनका कहना है कि पतंगबाजी साइंस और मैथ का मिश्रण है। मनोरंज के साथ बच्चे इससे पढ़ाई को सीखते हैं। इस दौरान बच्चे हवा का उपयोग करना सीखते हैं। पतंग उड़ाने के लिए डोर बांधना सीखते हैं। जो एरोनॉटिकल इंजीनियरिंग का हिस्सा है। पतंग बनाते हुए आर्ट की जानकारी भी होती है।

पतंग उत्सव में महाराष्ट्र से निसर्ग शाह अपनी पांच लोगों की टीम के साथ पतंगबाजी सिखाने आए हैं।
पतंग उत्सव में महाराष्ट्र से निसर्ग शाह अपनी पांच लोगों की टीम के साथ पतंगबाजी सिखाने आए हैं।

चाइनीज मांझा का उपयोग नहीं करते

पतंग उत्सव में मुख्य ट्रेनर महाराष्ट्र से आए निसर्ग शाह ने बताया कि उनकी टीम पतंगबाजी में चाइनीज मांझा का उपयोग नहीं करती। उसका विकल्प उन्होंने कॉटन थ्रेड तलाशा है। कॉटन थ्रेड में नायलॉन मिला हुआ होता है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज कई प्रकार की गतिविधियां में व्यस्तता रहेगी। साथ ही सामाजिक दायरा भी बढ़ेगा। आप किसी विशेष प्रयोजन को हासिल करने में समर्थ रहेंगे। तथा लोग आपकी योग्यता के कायल हो जाएंगे। कोई रुकी हुई पेमेंट...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser