लोहरदगा में नक्सली वारदात:सड़क निर्माण कार्य में लगी 3 मशीनें और 2 पानी के टैंकरों में लगाई आग, काम रोका

लोहरदगाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
नक्सलियों की ओर से जलाई गई मशीन। - Dainik Bhaskar
नक्सलियों की ओर से जलाई गई मशीन।

झारखंड के लोहरदगा में नक्सलियों ने एक बार फिर अपनी मौजूदगी का अहसास कराया है। जिले के सेरेंगदाग थाना क्षेत्र में माओवादियों ने सड़क और पुलिया निर्माण कार्य लगी 3 मशीनें और 2 पानी के टैंकर को आग के हवाले कर दिया। घटना हेन्हे एवं रोडो टोली की है। पुलिस ने दावा किया है कि घटना मंगलवार की है। दावा किया जा रहा है कि नक्सलियों ने इस काम को तत्काल बंद करने के लिए कहा है। चेतावनी दी है कि अगर कार्य दोबारा शुरू कराया गया तो मुंशी को सजा दी जाएगी।

बताया जा रहा हे कि निंदी से हेन्हे तक 8 किलोमीटर लंबे सड़क का निर्माण कार्य किया जा रहा था। घटना के बाद से गांव में सन्नाटा पसरा हुआ है। इस रास्ते में तीन बड़े पुल का निर्माण कार्य चल रहा है। नक्सलियों की वारदात को देखते हुए निर्माण कार्य में लगी JCB और ट्रैक्टर को पहले ही हटा दिया गया था । घटना की जानकारी मिलने के बाद पुलिस की टीम ने मौके पर पहुंचकर स्थिति का जायजा लिया।

सुरक्षा मिलने तक काम नहीं करने का निर्णय
निर्माण कार्य में लगी एजेंसी ने दावा किया कि सुरक्षा मिलने के बाद ही दोबारा काम शुरू कराया जाएगा। नक्सलियों के डर के कारण आसपास के लोग भी इस प्रोजेक्ट में काम करने से कतरा रहे हैं। बताया जा रहा है कि इस मार्ग का निर्माण होने से एक बड़ी आबादी को सीधा फायदा होना है। वहीं पहले के मुकाबले इस इलाके में आवागमन सहज हो सकेगा। पुलिस ने कार्य कराने वाली एजेंसी को हर संभव मदद का आश्वासन दिया है। वहीं इस पूरे मामले से जिला प्रशासन एवं पुलिस प्रशासन के आला अधिकारियों को अवगत कराने की बात कही है।

नक्सली संगठन स्थापना दिवस सप्ताह को लेकर सक्रिय
भाकपा माओवादी की ओर से वर्तमान में प्रतिबंधित संगठन की स्थापना की 21वीं वर्षगांठ मनाई जा रही है। इसके तहत गत 2 दिसंबर से 8 दिसंबर तक साप्ताहिक अभियान चलाया जा रहा है। इसके तहत संगठन की ओर से जगह-जगह पोस्टर लगाकर अपनी मौजूदगी और विचार की जानकारी दी जा रही है। जिले में भी नक्सलियों ने पोस्टर लगाए थे।

खबरें और भी हैं...