पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

पलामू में तीन बदमाश गिरफ्तार:रंगदारी नहीं मिलने पर लगा दी मालिक के इलेक्ट्रॉनिक दुकान में आग

​​​​​​​मेदिनीनगर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
दुकान में आग लगाने के अलावे बदमाशों ने पवन अग्रवाल की दवा दुकान में रंगदारी के लिए चिट्ठी भी डाली थी। - Dainik Bhaskar
दुकान में आग लगाने के अलावे बदमाशों ने पवन अग्रवाल की दवा दुकान में रंगदारी के लिए चिट्ठी भी डाली थी।

एक कर्मी ने खटाल खोलने के लिए अपने ही मालिक से रंगदारी मांग लिया। जब रंगदारी नहीं मिली तो दुकान में आग लगा दिया। मामला शहर थाना क्षेत्र का है। पुलिस ने इलेक्ट्रॉनिक दुकान में आग लगाने और रंगदारी मांगने के आरोप में तीन बदमाशों को गिरफ्तार किया है।

सदर एसडीपीओ के विजय शंकर ने बताया कि 27 मार्च की रात तिनकोनिया स्थित बिजली एवं इलेक्ट्रॉनिक दुकान अग्रवाल डिस्ट्रीब्यूटर में बदमाशों ने आग लगा दिया था। दुकान के प्रोपराइटर पवन अग्रवाल ने इस सम्बंध में शहर थाना में मामला दर्ज कराया था। दुकान में आग लगाने के अलावे बदमाशों ने पवन अग्रवाल की दवा दुकान में रंगदारी के लिए चिट्ठी भी डाली थी।

जांच के क्रम में पुलिस को सीसीटीवी फुटेज हाथ लगा, जिसमें बदमाशाें का चेहरा साफ नजर आ रहा था। इस पूरी साजिश को रचने वाला ओम प्रकाश इलेक्ट्रॉनिक दुकान का स्टाफ निकला। कुछ दिन पूर्व ही उसने दुकान में काम करना छोड़ा था। ओमप्रकाश चैनपुर के निमियां का रहने वाला है।

शहर थाना प्रभारी इंस्पेक्टर अरुण महथा के नेतृत्व में पुलिस टीम ने ओम प्रकाश को गिरफ्तार किया। उसकी निशानदेही पर चैनपुर चट्टीपार के रहने वाले रोहित कुमार नेउरा के देवराज प्रजापति को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। गिरफ्तार बदमाशों ने पुलिस को बताया कि रंगदारी के पैसे से अपना बिजनेस शुरू करना चाहते थे। खटाल खोलने की प्लानिंग थी।