खूंटी की 2 बड़ी खबरें:अफीम और छह लाख रुपये के साथ दो अपराधी गिरफ्तार, कामंता में हुई युवक की हत्या का खुलासा

खूंटी5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पुलिस के हत्थे चढ़े आरोपी। - Dainik Bhaskar
पुलिस के हत्थे चढ़े आरोपी।

झारखंड के खूंटी जिले में पुलिस को दो बड़ी सफलता हाथ लगी है। एक तरफ जहां पुलिस ने नशे के कारोबार पर नकेल लगाने में सफलता प्राप्त की है वहीं एक युवक की हत्या का खुलासा कर दिया है। दोनों मामलों में शामिल अपराधियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। मंगलवार को पुलिस अधिकारियों की ओर से इसकी जानकारी दी गई।

पहला मामला
लातेहार में अफीम बेचकर वापस अपने गांव लौट रहे दो लोगों को खूंटी पुलिस ने गुप्त सूचना के आधार पर गिरफ्तार कर लिया है। दोनों के पास से पुलिस ने एक किलो एक सौ ग्राम अफीम व छह लाख 120 रुपये बरामद किया है। दोनों अभियुक्त एक मोटरसाइकिल से मारंगहादा की ओर जा रहे थे। पुलिस ने दोनों के पास से तीन मोबाइल समेत बाइक को जब्त कर लिया है। दोनों की गिरफ्तारी सायको थाना क्षेत्र के आडा घाटी के पास की गई है। गिरफ्तार अभियुक्तों में 30 वर्षीय सानिका मुंडा और 39 वर्षीय शिवशंकर मुंडा शामिल है। दोनों खूंटी जिले के मारंगहादा थाना क्षेत्र के केर्रा गांव के निवासी हैं। इसकी जानकारी देते हुए खूंटी के अनुमंडल पदाधिकारी अमित कुमार ने बताया कि जिले के पुलिस अधीक्षक अमन कुमार को सूचना मिली कि कुछ व्यक्ति सायको थाना क्षेत्र के आडा घाटी होते हुए अफीम ले जाने वाले हैं। सूचना मिलने के बाद उन्होंने खूंटी-तमाड़ रोड के आडा घाटी में वाहन जांच अभियान के साथ छापामारी करने के लिए सायको थाना और एसएसबी 26 बटालियन की टीम का गठित किया। आदेश के आलोक में त्वरित कार्रवाई करते हुए वाहन जांच के दौरान इन्हें पकड़ा गया।

दूसरा मामला
प्रेम संबंध व आपसी रंजिश के कारण खूंटी थाना क्षेत्र के कामंता के पास बीते शनिवार को युवक की हत्या कर दी गई थी। हत्यारों ने युवक की हत्या कर शव को नाले में फेंक दिया था। मामले की तहकीकात करते हुए पुलिस ने घटना का खुलासा किया है। इस कांड को अंजाम देने के आरोप में पुलिस ने दो युवकों को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार युवकों में खूंटी थाना क्षेत्र के कामंता के रहने वाले मरकुस भेंगरा उर्फ शूटर उर्फ पब्जी उर्फ डांसर और कटहल टोली, तोरपा रोड के रहने वाले महेश सिंह शामिल है। इनमें मरकुस के खिलाफ खूंटी थाना में तीन और महेश के खिलाफ एक मामला पूर्व से ही दर्ज है। गिरफ्तार आरोपियों के निशानदेही पर घटना में प्रयुक्त कुल्हाड़ी भी पुलिस ने बरामद कर लिया है। दरअसल, मृतक मंगा मुंडा का एक दोस्त और हत्यारोपी मरकुस भेंगरा एक ही लड़की को पसंद करते थे। अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी अमित कुमार ने बताया कि इसको लेकर दोनों के बीच मारपीट भी हो चुकी थी। दो सप्ताह पहले मंगा मुंडा व उसके दोस्त ने मिलकर मरकुस की पिटाई किया था। तब से मरकुस भी बदला लेने के लिए ताक लगाए बैठा था। घटना के दिन मंगा को अकेला पाकर मरकुस व महेश ने मिलकर उसे मार दिया। दोनों गिरफ्तार अभियुक्तों ने पूछताछ के दौरान हत्याकांड में अपनी संलिप्तता स्वीकार किया।