झारखंड में छापेमारी पर गरमाई सियासत:CM हेमंत सोरेन ने कहा- बच्चा जब हारने लगता है तो विकेट उखाड़कर भागता है, निशिकांत ने किया पलटवार

रांची3 महीने पहले
मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन।

झारखंड की वरिष्ठ आइएएस अधिकारी पूजा सिंघल और उनसे जुड़े सत्ता के करीबी लोगों के खिलाफ प्रवर्तन निदेशालय की छापेमारी पर सियासत गरमा गई है। कार्रवाई को लेकर पक्ष-विपक्ष ने एक-दूसरे पर हमला बोला है। शुक्रवार को छापेमारी पर अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा कि जब बीजेपी राजनीतिक के अखाड़े में पार नहीं पाती तो वह सरकारी मशीनरी का कथित "सदुपयोग" करने लगती है।

पूजा सिंघल।
पूजा सिंघल।

उन्होंने कहा कि यह बिल्कुल वैसा ही है, जैसे कोई बच्चा जब खेल में हारने लगता है तो विकेट उखाड़ कर भाग जाता है। हम इस कार्रवाई से विचलित होने वाले नहीं हैं। वहीं सरकार में भागीदार कांग्रेस ने इसे सरकारी मिशनरी का दुरुपयोग करार दिया है। कहा है कि हम फ्लावर नहीं हैं। फायर हैं।

निशिकांत दुबे।
निशिकांत दुबे।

इस बीच पूरे घटनाक्रम पर एक बार फिर भाजपा के सांसद डा. निशिकांत दुबे ने CM हेमंत सोरेन और उनसे जुड़े लोगों पर हमला बोला है। उन्होंने कहा कि जिस तरह से राज्य में लूट चल रही थी। जाहिर है इसकी जानकारी एजेंसियों को मिल रही थी। इसके आधार पर ही कार्रवाई की गई है।
अवैध खनन मामले में ED की रेड:झारखंड की IAS पूजा सिंघल के CA के घर 17 करोड़ कैश मिले, गिनने के लिए मशीनें लाई गईं

सरकार किसी की भी हो जलवा सिंघल का ही:विवादों से रहा है गहरा नाता, 'उड़ने वाले हाथी' की खोज में रही खास भूमिका