पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Jharkhand
  • Seven Leader Expelled From Congress Party Celebrating Liquor Party On 78th Anniversary Of Quit India Movement In Chaibasa

कार्रवाई:भारत छोड़ो आंदोलन के 78वीं वर्षगांठ पर शराब पार्टी मनानेवाले सात नेता कांग्रेस पार्टी से निष्कासित

चाईबासा16 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
विश्व आदिवासी दिवस पर आयोजित कार्यक्रम के दौरान शराब के साथ फोटो खिंचवाते कांग्रेसी नेता। इस फोटो के वायरल होने के बाद इन कांग्रेसियों के खिलाफ कार्रवाई की गई है।
  • निष्कासित होने वाले कांग्रेस नेता कृष्ण सोय 12 साल से कांग्रेस में थे, 30 साल तक पार्टी समर्थक के रूप में काम किया
  • चाईबासा सांसद गीता ने कृष्ण सोय को पंचायती राज, श्रम, रोजगार एवं प्रशिक्षण विभाग का प्रतिनिधि घोषित किया था

चाईबासा में 9 अगस्त को आदिवासी दिवस और भारत छोड़ो आंदोलन के 78वीं वर्षगांठ पर कांग्रेस नेताओं की ओर से अंग्रेजी शराब बांटने और भोज खाने के मामले में प्रदेश नेतृत्व ने कड़ी कार्रवाई की है। शराब बांटने और शराब के साथ फोटो सेशन कराने के मामले में कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष डॉक्टर रामेश्वर उरांव ने करीब एक महीना बाद सात कांग्रेसियों को पार्टी से निकाल दिया है।

दैनिक भास्कर में छपी थी तस्वीर
बता दें कि इस संबंध में पश्चिमी सिंहभूम जिला कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष रंजन बोयपाई ने प्रदेश शराब पार्टी में शामिल लोगों के खिलाफ अनुशासनहीनता की शिकायत की थी जिसके बाद यह कार्रवाई हुई। गौरतलब है कि प्रदेश कांग्रेस कमेटी के निर्देश पर 9 अगस्त को चाईबासा के गौशाला मैदान में विश्व आदिवासी दिवस तथा भारत छोड़ो आंदोलन की 78वीं वर्षगांठ मनायी गयी थी। आरोप है कि कृष्ण सोय व उनके समर्थकों ने इसी कार्यक्रम में पार्टी सिद्धांतों व संविधान को दरकिनार करते हुए शराब की बोतल संग पार्टी मनाई और शराब के साथ फोटोग्राफी भी की थी। बाद में यह तसवीर दैनिक भास्कर में छपी तो कृष्ण सोय व उसके समर्थकों के खिलाफ प्रदेश कांग्रेस कमेटी से शिकायत की गई।

घटना के एक माह बाद प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने कड़ी कार्रवाई करते हुए 12 सितंबर को उनको और समर्थकों को अगले आदेश तक पार्टी से निष्कासित कर दिया। कृष्ण सोय के अलावा कार्यकर्ता बिरसा कुंटिया, संतोष सिन्हा, मुकेश दास, तरूण पुरती, लक्ष्मण हांसदा, तुरी सुंडी व सिद्धार्थ होनहागा को भी पार्टी से निष्कासित कर दिया गया है। प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने माना कि इन लोगों का आचरण कांग्रेस पार्टी विरोधी था और इससे पार्टी की छवि धूमिल हुई है। कृष्ण सोय करीब 12 वर्षों से कांग्रेस में थे और करीब 30 वर्षों तक कांग्रेस समर्थक के रूप में पार्टी के लिए काम किया था।

गौरतलब है कि सांसद गीता कोड़ा ने हाल ही में कृष्ण सोय को पंचायती राज, श्रम, रोजगार एवं प्रशिक्षण विभाग का प्रतिनिधि घोषित किया था। वहीं पार्टी से निष्कासित सिद्धार्थ होनहागा को भी कोड़ा दंपति का करीबी माना जाता है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- मेष राशि वालों से अनुरोध है कि आज बाहरी गतिविधियों को स्थगित करके घर पर ही अपनी वित्तीय योजनाओं संबंधी कार्यों पर ध्यान केंद्रित रखें। आपके कार्य संपन्न होंगे। घर में भी एक खुशनुमा माहौल बना ...

और पढ़ें